संवाद सूत्र, मुल्लांपुर दाखा : राज्य के मुलाजिमों की संघर्षशील जत्थेबंदी पंजाब सुबार्डिनेट सर्विसेज फेडरेशन के सदस्यों ने प्रदेश सरकार की वादा खिलाफी के विरुद्ध शनिवार को रोष प्रदर्शन किया। प्रदर्शनकारियों को संबोधित करते हुए प्रदेश अध्यक्ष सतीश राणा, जनरल सेक्रेटरी तीर्थ सिंह बासी ने कहा कि जत्थेबंदी की तरफ से किए संघर्ष के दबाव के कारण सरकार के प्रतिनिधियों के साथ की मीटिगों में मानीं मांगों को लागू नहीं किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि हलके के कांग्रेसी उम्मीदवार का लोक विरोधी चेहरा नंगा करने के लिए यह रोष प्रदर्शन किया जा रहा।

रैली को संबोधित करते राज्य नेताओं वेद प्रकाश शमर, कर्मजीत सिंह बीहला, रामजी दास चौहान, दर्शन बेलु माजरा, सुखविदर सिंह चाहल, कुलदीप सिंह, इंद्रजीत बिरदी, हरमनप्रीत कौर गिल, गुरदीप सिंह बाजवा, गुरविन्दर सिंह और मनजीत सिंह सैनी आदि ने कहा कि कैप्टन के नेतृत्व वाली कांग्रेस सरकार सता में आई है तब से ही मुलाजिम, किसान, मजदूर और लोक विरोधी नीतियों के कारण परेशान हो रहे हैं। नेताओं कहा कि वित मंत्री पंजाब की तरफ से ़खजाना खाली होने का झूठा प्रचार करके मुलाजिमों को मिलने वाले वित्तिय लाभ को रोका जा रहा है। जबकि, ससंदीय सचिवों और ओ.एस.डीज. की अनावश्यक ़फौज खड़ी करके जनता के पैसों से अपने चहेते को ऐश करवाई जा रही है। नेताओं ने कहा कि इस हलके का कांग्रेसी उम्मीदवार संदीप संधू मुख्य मंत्री का वही ओ.एस.डी. है जिसकी तरफ से मुलाजिम संघर्षो दौरान मांग पत्र प्राप्त करके मुख्य मंत्री के साथ मीटिग करवाने और मांगों को हल करने के दिए भरोसे को कभी भी पूरा नहीं किया। इसलिए वह सरकार की ढाल बने इस उम्मीदवार को किसी भी कीमत पर जीतने नहीं देंगे।

इस दौरान यूनियन नेताओं ने मांग की कि महिला अध्यापकों का मानसिक शोषण करने वाले फहतेगढ़ साहिब के जिला अधिकारी को सस्पेंड किया जाए। रैली को संबोधन करते जसप्रीत गगन, बिमला रानी, रजिन्दर कौर , बीरइन्द्रजीत पुरी, कमलजीत कौर, हरी विलास, कृष्ण चंद जागोवालिया, कुलदीप पूरेवाल, धरमिन्दर सिंह भंगू, सिमरजीत सिंह, रणजीत ईशापुर आदि ने कहा कैप्टन सरकार की तरफ से मुलाजिमों को हाशिए ला दिया है। इस मौके करमजीत सिंह के.पी., अनिल कुमार, मनजीत सिंह, बाजवा, सुखमंदर सिंह, निर्भय सिंह, जगदेव सिंह जौहल, जसवीर सीरा, अमनदीप , गुरशरन सिंह राउवाल, कुलवंत सिंह आदि उपस्थित थे।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!