लुधियाना, जेएनएन। नागरिकता संशोधन अधिनियम को लेकर देश के कई हिस्साें में विरोध-प्रदर्शन किया जा रहा है। संसद में पास किए गए नागरिकता संशोधन अधिनियम के खिलाफ मुस्लिम शहर में समुदाय के लोगों ने मोर्चा खोल दिया है। लुधियाना के अलग-अलग मुस्लिम संगठनों ने शनिवार को रोष मार्च निकाला और डीसी दफ्तर के सामने प्रदर्शन किया।

प्रदर्शनकारियों ने नागरिकता संशोधन अधिनियम व केंद्र सरकार के खिलाफ नारेबाजी की।

केंद्र सरकार के खिलाफ प्रदर्शन की अगुआई पंजाब के शाही इमाम अतीक उर रहमान ने की। रोष मार्च जामा मस्जिद से डीसी दफ्तर तक निकाला गया। इस प्रदर्शन में हजारों की संख्या में मुसलमान समुदाय के लोग शामिल हुए। प्रदर्शन के दौरान काफी संख्या में पुलिस बल तैनात रहा। 

प्रदर्शनकारियों पर काबू पाने के लिए पुलिस को काफी मशक्कत करनी पड़ी।

प्रदर्शन के दौरान लोगों ने केंद्र सरकार के खिलाफ आरोप लगाया कि मुस्लिमों के खिलाफ फैसले लिए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि पूरे देश इस विधेयक के खिलाफ आंदोलन किया जाएगा। यह कानून मुस्लिमों के अधिकारों का हनन है।

लुधियाना में प्रदर्शन की अगुआई पंजाब के शाही इमाम अतीक उर रहमान ने की।

उन्हाेंने कहा कि केंद्र सरकार को इसका खामियाजा भुगतना पड़ेगा और वे इस कानून का डटकर विरोध करेंगे। बता दें कि कानून के विरोध में शुक्रवार को उत्तर प्रदेश, बंगाल, झारखंड और दिल्ली समेत देश के कई हिस्सों में प्रदर्शन हुए थे। शनिवार को कई जगहों पर विरोध प्रदर्शन किया जा रहा है।

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें  

Posted By: Sat Paul

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!