संस, लुधियाना : टिब्बा रोड के खाली प्लॉट से मिले शव की पोस्टमार्टम रिपोर्ट में खुलासा हुआ है कि युवक के सिर में हथियार मारकर उसकी हत्या की गई थी। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में यह खुलासा हुआ है। पुलिस मामले की जांच में जुट गई है, जबकि पहले 174 की कार्रवाई की गई थी। शव चार दिन पहले लावारिस हालत में मिला था और अभी तक इसकी शिनाख्त भी नहीं हो पाई है।

सोमवार को शव का पोस्टमार्टम हुआ तो केस बिल्कुल उल्ट हो गया। पोस्टमार्टम में सामने आया है कि अज्ञात युवक की मौत नशे के कारण नहीं बल्कि सर पर लगी चोट से हेड इंजरी होने के चलते हुई है। मृतक युवक के सिर पर पीछे से आगे की तरफ करीब चार चोट के निशान है। इसके साथ ही उसकी आखें भी नीली पड़ चुकी थीं। पोस्टमार्टम के दौरान डॉक्टर ने खुलासा किया कि युवक की मौत हेड इंजरी होने से हुई है। इससे साफ होता है कि उस युवक की हत्या की गई है। 4 दिन बाद भी युवक की पहचान नहीं

टिब्बा रोड के इलाके न्यू सुभाष नगर में खाली प्लॉट से 6 सितंबर को 25 वर्षीय एक युवक का शव बरामद हुआ था। उस प्लॉट के चारों ओर दीवार थी और प्लॉट में लगे गेट पर ताला लगा था। सूचना मिलने के बाद पुलिस ने शव को 174 की कार्रवाई कर सिविल अस्पताल की मोर्चरी में रखवा दिया था। पर 4 दिन बाद भी उसकी पहचान नहीं हो पाई है। पुलिस पर सवाल : कार्रवाई के समय क्यों नहीं देखे जख्म के निशान

अब पुलिस पर यह सवाल उठ रहा है कि जब यह शव बरामद हुआ तो उन्हे कार्रवाई करते समय युवक के सिर पर लगे जख्म क्यों नजर नहीं आए। क्योंकि जब कभी पुलिस को कोई शव बरामद होता है तो उनकी पहली कार्रवाई शव की जामातलाशी लेकर उसके शरीर पर पहने कपड़ों से जख्म तक नोट करने होते है। पर इस केस में ऐसा कुछ नहीं किया गया। हमें पोस्टमार्टम के बाद युवक के सिर पर लगी चोट के बारे में पता लगा है। लगता है कि मृत युवक उस दिन नशे की हालत में दीवार फाद कर प्लॉट में दाखिल होने लगा था। जहा गिरने से उसके सिर पर यह चोट आई है। फिर भी मामले की जाच की जा रही है।

-सोमनाथ, एएसआइ, थाना टिब्बा रोड

पोस्टमार्टम में सामने आया है कि युवक के सिर पर चार जगह चोटे है। अगर यह चोट गिरने से लगी होती तो जख्म या तो आगे होता या फिर पीछे। पर मृतक के सिर पर आगे से पीछे दोनों जगह चोट है। यह चोट किसी डडे या रॉड से भी मारी हो सकती है।

डॉ. दविंदर कुमार, पोस्टमार्टम करने वाले डॉक्टर

Posted By: Jagran