लुधियाना, जेएनएन। शहर के वातावरण को प्रदूषित करने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने की जिम्मेदारी नगर निगम और उसके कर्मचारियों पर है, लेकिन वही कर्मचारी सुबह-सुबह कूड़े को आग लगाकर प्रदूषण फैला रहे हैं। उन्हें रोकने वाला भी कोई नहीं है। क्योंकि जब वह कूड़े को आग लगाते हैं उस वक्त निगम के आला अफसर नींद में होते हैं। अफसरों की निगरानी न होने पर ज्यादातर सफाई कर्मचारी व अन्य लोग भी सफाई के बाद कूड़ा एकत्रित करके उसे आग लगा देते हैं।

शहर के कई इलाकों में रोजाना सुबह-सुबह कई टन कूड़े को इस तरह आग लगाई जा रही है। जिससे निकलने वाली हानिकारक गैसें वायुमंडल को प्रदूषित कर रही हैं। नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल भी निगम को सख्त हिदायतें दे चुका है कि शहर में कूड़े को आग न लगाई जाए। ग्रीन ट्रिब्यूनल के सख्त दिशानिर्देशों के बाद नगर निगम वेस्ट मैनेजमेंट के लिए गाइडलाइन जारी कर चुका है और उसके तहत कूड़े को आग लगाने वालों पर सख्त जुर्माना करने का प्रावधान रखा गया है।

इसके बावजूद शहर के अलग-अलग हिस्सों में कूड़े को लगातार आग लगाई जा रही है। दरअसल, सफाई कर्मचारी सुबह-सुबह जब सफाई करके कूड़ा एकत्रित करते हैं, तो उन्हें वह कूड़ा सेकेंडरी डंप तक पहुंचाना होता है। कूड़े को सड़क से उठाकर रेहड़े पर डालना और फिर डंप तक पहुंचाने में उनका काफी वक्त लग जाता है। इस वक्त को बचाने के लिए वह कूड़े को आग लगा देते हैं। एनजीटी की गाइडलाइन के मुताबिक कूड़े को आग लगाने वालों से निगम जुर्माना वसूल सकता है। निगम कूड़े को आग लगाने वालों से पांच सौ रुपये लेकर 25 हजार रुपये तक जुर्माना वसूल सकता है।

शहीद भगत सिंह नगर में कई दिनों से लगी कूड़े को आग

शहीद भगत सिंह नगर में सड़क के किनारे बने कूड़ा डंप से कूड़ा उठाने की बजाय वहां भी कूड़े को आग लगा दी गई है। इलाके के कुछ लोगों का कहना है कि निगम के कर्मचारियों ने कूड़े के डंप को आग लगाई है। कई दिनों से कूड़े से धुआं निकल रहा है लेकिन किसी ने उसे बुझाने की कोशिश नहीं की।

कड़ा न जलाने की दी गई हैं हिदायतें

नगर निगम जोन एव बी के सेक्रेटरी और हेल्थ ब्रांच के इंचार्ज जसदेव सिंह सेखों का कहना है कि सफाई कर्मचारियों को सख्त हिदायतें दी गई हैं कि वह कूड़े को आग न लगाएं। अगर कहीं पर ऐसा हो रहा है तो उसकी जांच की जाएगी और उन्हें जुर्माना किया जाएगा।

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें 

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!