लुधियाना, जेएनएन। कोरोना वायरस की महामारी से बचाव के लिए लगाए गए कर्फ्यू के दौरान भले ही आम जनता व दुकानदारों को जागरूक किया गया है। उसके बावजूद लोग बाज नहीं आ रहे। बुधवार पुलिस ने 16 ऐसे लोगों के खिलाफ 5 केस दर्ज किए, जिन्होंने कर्फ्यू का उल्लंघन किया। आरोपित बिना मंजूरी सड़कों पर गाड़ियां लगा सब्जियां बेच रहे थे। 6 ऐसे लोगों को भी काबू किया गया, जाे प्याज की कालाबाजारी कर रहे थे।

थाना दरेसी पुलिस ने हैबोवाल निवासी अब्दुल, बेगोवाल सावन इंक्लेव निवासी सागर दाबा तथा मलेरकोटला निवासी मोहम्मद वशीर को गिरफ्तार किया। आरोपित कर्फ्यू के दौरान काराबारा रोड पर गाड़ियां खड़ी करके सब्जियां बेच रहे थे। थाना सलेम टाबरी पुलिस ने प्रताप सिंह वाला निवासी संतोख सिंह, मलेरकोटला निवासी मोहम्मद शाहिद तथा तरनतारन निवासी गुरप्रीत सिंह को गिरफ्तार किया। आरोपित पीरू बंदा मोहल्ला में चर्च के सामने गाड़ियां लगा कर सब्जियां बेच रहे थे।

थाना सलेम टाबरी पुलिस ने डाबा लोहारा के गुरु नानक नगर निवासी हरजिंदर सिंह, गांव खासी निवासी मोहन कुमार तथा गांव राजेवाल निवासी भगवंत सिंह को गिरफ्तार किया। आरोपित दाना मंडी शेड के पास गाड़ियां लगा सब्जियां बेच रहे थे। थाना सलेम टाबरी पुलिस ने नेताजी नगर निवासी सरबजीत सिंह, नवल किशोर, सोनी, जुगल किशोर, अनमोल गुप्ता तथा पटियाला निवासी गुरमीत सिंह को गिरफ्तार किया। आरोपितों ने सिमरन सोप फैक्ट्री को गोदाम बना रखा था। जिसमें स्टोर किए गए प्याज ऊंचे दाम पर बेच रहे थे। थाना डिवीजन नंबर 6 पुलिस ने जनता नगर निवासी रामू को गिरफ्ततार किया है। आरोपित दीदार अस्पताल के पास सब्जी की दुकान खोल कर बैठा था। जहां लोगों की भीड़ जमा थी।

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें 

Posted By: Satpaul

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!