जागरण संवाददाता, लुधियाना : नाभा की जेल में उम्र कैद की सजा काट रहे कुख्यात अपराधी व गैंगस्टर राजीव कुमार उर्फ राजा को प्रोडक्शन वारंट पर लाने में एक और पेंच फंस गया। उसे रिमांड पर लेने के लिए पुलिस को डीजीपी की मंजूरी लेनी पड़ी। इसके बाद उसे प्रोडक्शन वारंट पर लाने संबंधी याचिका दायर की गई है। उस मामले में अदालत ने अपने फैसले के लिए 21 सितंबर का दिन तय किया है। थाना डिवीजन नंबर तीन के एसएचओ सतीश कुमार ने कहा कि शातिर अपराधी राजा जेल से फरार होने के लिए अपना हर हथकंडा अपना चुका है। पहले उसने अपनी मां की मौत के समय जेल से बाहर जाने की मंजूरी मांगी, जिसे अदालत ने नामंजूर कर दिया। उसके बाद उसने अदालत में याचिका दायर की कि वो अपनी शादी कराना चाहता है। अदालत के निर्देश पर पुलिस ने जब उसकी याचिका की छानबीन की तो उसे गलत पाया। आरोपित लुधियाना निवासी जिस दिव्यांग युवती से शादी करने की बात कर रहा था, उस युवती ने पुलिस को बताया कि उसने कभी राजा से शादी करने की हामी नहीं भरी है। इसके बाद अदालत उसे जेल से बाहर भेजने की मंजूरी नहीं दे रही है। उसके खिलाफ विभिन्न शहरों, जिलों व राज्यों में हत्या, लूट तथा मारपीट के 33 मामले दर्ज हैं। उधर, एसीपी सेंट्रल वरियाम ¨सह ने कहा कि राजा को वारंट पर लाने संबंधी सभी औपचारिक्ताएं पूरी कर ली गई हैं। संभवत 21 सितंबर के दिन अदालत उसे रिमांड पर दे दे। राजा को छुड़ाने की साजिश बनाने वाले काबू किए बदमाश भेजे जेल दूसरी तरफ विगत सप्ताह पकड़े गए बहादुरके रोड के आजाद नगर निवासी राजन उर्फ राजा, गांव सिधवां फतेहगढ़ साहिब निवासी गुर¨वदर ¨सह उर्फ गुरी उर्फ शेरा, फतेहगढ़ साहिब के गांव बरास निवासी सुखचैन ¨सह उर्फ चैना तथा समराला चौक निवासी रेशम ¨सह उर्फ मन्ना का रिमांड खत्म होने पर थाना डिवीजन नंबर तीन की पुलिस ने बुधवार सभी को अदालत में पेश किया। वहां से उन्हें जेल भेज दिया गया। पुलिस ने 4 सितंबर को सभी बदमाश पकड़े थे। उनके कब्जे से .32 बोर का एक रिवाल्वर, 2 मैगजीन, 9 ¨जदा कारतूस, 315 बोर के तीन रिवाल्वर (देसी कट्टे), 10 ¨जदा कारतूस, एक सेंट्रो कार, एक एक्टिवा, 6 फर्जी नंबर प्लेट, दो मोबाइल फोन तथा दो डोंगल बरामद हुए। गैंग के लीडर बाल ¨सह नगर निवासी विजय का पकड़ा जाना अभी बाकी है। सभी आरोपित जेल में बंद राजा को जेल से छुड़ाने की फिराक में थे।

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!