संवाद सहयोगी, लुधियाना :

कोरोना वायरस जैसी महामारी के बीच लगे लॉकडाउन के दौरान लगभग दो महीने से अधिक खेल व खिलाड़ियों पर भी ग्रहण लग गया था। जिसको अब दोबारा से पटरी पर लाने के उद्देश्य के लिए पंजाब सरकार के दिशा निर्देशानुसार पर जिला खेल विभाग की ओर से मैदानों में खेल का आगाज शुरू कर दिया गया। इस दौरान खिलाड़ी निर्धारित समय पर मैदान में आ रहे हैं और प्रशिक्षण हासिल कर प्रतिभा को और निभारने में जुटे हैं। कोरोना महामारी को फैलने से रोकने के लिए यहां पर स्पेशल तौर सरकारी हिदायतों का ख्याल जा रहा है।

इस अवसर पर जिला खेल अधिकारी रविदर सिंह ने बताया कि सरकारी कालेज लड़कों के मैदान में एथलेटिक्स गेम्स का आगाज शुरु किया गया। कभी सुबह व कभी शाम सत्र में खिलाड़ियों को बुलाया जाता है। उन्होंने कहा कि कोविड-19 नियमों के अनुसार शुरुआती दौर में 15-20 खिलाड़ी को प्रशिक्षण शारीरिक दूरी के साथ शुरु कराया गया। वह खिलाड़ी बुलाएं जा रहे ,जिनके माता पिता खुद चाहते है कि उनका बेटा प्रशिक्षण करे, उनसे बकायदा लिख कर लिया जा रहा है, कि वह भी घर में कोविड-19 नियमों का पालन करें। एथलेटिक कोच संजीव शर्मा ने कहा कि खिलाड़ियों को खुद मास्क, सेनीटाइजर की बोतले मैदान में लेकर आनी होगी, तभी प्रशिक्षण में भाग ले सकता है। उन्होंने कहा कि गुरु नानक स्टेडियम में श्रमिकों का आने जाने से सरकारी कालेज में प्रशिक्षण कराया जा रहा है। उन्होंने कहा कि फिलहाल एथलेटिक्स, योगा, गोल्फ को शुरु करने का कहा गया है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!