जासं, लुधियाना : सामने बड़ी सी डिजीटल स्क्रीन और उस पर चल रही गुरु नानक देव जी की जीवनी से जुड़ी फिल्म देखकर हजारों शहरवासी धन्य हो गए। ऐसा लग रहा था जैसे श्री गुरु नानक देव जी धरती पर उतर आए हों। कोई स्क्रीन पर चल रही फिल्म को अपने कैमरे में रिकाॅर्ड कर रहा था तो कोई हाथ जोड़कर अपनी नजरें स्क्रीन की तरफ जमाए हुए था। दर्शक दीर्घा में बच्चों से लेकर बुजुर्ग और मुलाजिम से लेकर डीसी प्रदीप अग्रवाल, पुलिस कमिश्नर राकेश अग्रवाल तक सभी जमीन पर बैठकर स्क्रीन पर चल रही गुरु नानक देव जी के जीवन से संबंधित बनी डिजीटल फिल्म को देखते रहे।

इतनी बड़ी स्क्रीन पर गुरु नानक देव जी के जीवन से जुड़ी जानकारी देखना दर्शकों के लिए अनूठा अनुभव रहा, क्योंकि इससे पहले उन्होंने गुरु जी के जीवन से संबंधित कहानियों को इस तरह कभी नहीं देखा था। वहीं दूसरे दिन भी दिनभर डिजीटल मोबाइल म्युजियम में लोगों ने प्रथम पातशाह के जीवन को जाना।

आज भी दिखाए जाएंगे दो शो

डीसी ने बताया कि 13 अक्टूबर की शाम को दो लाइट एंड साउंड शो फिर से दिखाए जाएंगे। पहला शो शाम को सात बजे से पौने आठ बजे तक और दूसरा शो साढ़े आठ बजे से सवा नौ बजे तक दिखाया जाएगा। 23 और 24 अक्टूबर को लाडोवाल में सतलुज दरिया में फ्लो¨टग लाइट व साउंड शो करवा जा रहा है।

लाइव लाइट शो देख गदगद हो उठे लुधियानवी

गुरु नानक देव के जीवन को जानने का मौका मिला पीएयू में पीएचडी की स्टूडेंट संगीता का कहना है कि इस तरह लाइव देखकर श्री गुरु नानक देव जी को जानना बेहद अच्छा अनुभव रहा। किताबों में गुरु नानक देव जी के बारे में जरूर पढ़ा लेकिन स्क्रीन पर इस तरह पहली बार देखा है। उनकी शिक्षाओं को इस तरह प्रस्तुत करना अच्छा आइडिया है। इससे युवा वर्ग निश्चित तौर पर प्रेरित होगा।  

यूथ को धर्म से जोड़ने की मॉडर्न तकनीक

पीएयू की स्टूडेंट प्रियंका का कहना है कि युवा हर चीज में नया प्रयोग चाहते हैं। यूथ धर्म से दूर होता जा रहा है लेकिन अगर उन्हें मॉडर्न तकनीक का इस्तेमाल करके इस तरह धार्मिक गतिविधियों से रूबरू करवाया जाए तो वह निश्चित ही उसमें रूचि लेना शुरू कर देगा। युवाओं ने खूब आनंद लिया।

बहुत उत्साहित थी और लाजवाब रहा यह शो

प्रियंका का कहना है कि इस शो के बारे में जब से सुना था वह काफी उत्साहित थी। उन्होंने बताया कि जब दिन में डिजीटल शो देखा तो उससे काफी कुछ सीखने को मिला, लेकिन रात को लाइट एंड साउंड शो लाजवाब रहा। जहां से इससे लोगों को मनोरंजन हुआ, वहीं उन्हें गुरुजी के जीवन से जानने का मौका भी मिला।

युवाओं के लिए प्रेरणा दे रहा है शो

दलजीत यिंह का कहना है कि इस शो से युवाओं को प्रेरणा मिल रही है। उन्होंने कहा कि शो के दौरान सभी युवा शांत तरीके से बैठे रहे और उन्होंने पूरे भाव के साथ इसका आनंद लिया। उन्होंने कहा कि गुरु नानक देव जी ने सभी को एक समान माना तो शो के दौरान भी सभी लोग जमीन पर बैठकर शो देखते रहे। यह एक अच्छा अनुभव रहा।

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!