लुधियाना, जेएनएन। जगराओं रेल पुल निर्माण के लिए लोहे का ढांचा रखने समेत अन्य कार्य करने के कारण सुबह 11 से शाम चार बजे तक पुल पर यातायात बंद करने के आदेश हैं। डायवर्ट किए गए ट्रैफिक के कारण पहले ही दिन से लोग जाम का सामना कर रहे रहे हैं। शनिवार को इस कार्य के लिए शाम चार बजे की बजाय साढ़े छह बजे तक पुल पर यातायात ठप रखा गया।

इससे शहर की लाइफलाइन फिरोजपुर रोड पर पड़ते जगराओं पुल पर साढ़े सात घंटे तक ट्रैफिक बंद रहा और लोगों को जाम से जूझना पड़ेगा। पुल के निर्माण में हो रही देरी ही इसकी वजह है। प्रशासन की ओर से बिना सूचना जारी किए इस ब्लॉक का समय शनिवार को बढ़ा दिया गया।

रिक्शा और ऑटो में सवार यात्री तो जाम लगने पर रास्ते में ही उतर कर पैदल अपने गंतव्य की ओर चलने को मजबूर हो गए। दरअसल सीपी राकेश अग्रवाल ने पांच से 10 दिसंबर तक सुबह 11 से शाम चार बजे तक ट्रैफिक आवागमन बंद करने का निर्देश जारी किया है जबकि शनिवार को बढ़ाए गए समय के बारे में कोई पूर्व में जानकारी नहीं दी गई। सूत्र बताते हैं कि इस पुल के ढांचा रखने का कार्य 10 दिसंबर तक पूरा नहीं हुआ तो इस ब्लॉक को और अधिक दिनों के लिए बढ़ाया जा सकता है।

घंटों लगी रही वाहनों की लंबी कतार

जगराओं पुल ट्रैफिक के लिए बंद होने के बाद लक्कड़ पुल, दमोरिया पुल, रानी झांसी रोड, माल रोड, विश्वकर्मा चौक, भारत नगर चौक दुर्गा माता मंदिर रोड, गिल रोड फ्लाईओवर पर ट्रैफिक को बोझ बढ़ गया है। वहां वाहनों की लंबी कतार लगी रहती है और वे घंटो तक रेंगते हुए आगे बढ़ रहे हैं। मोहल्लों की गलियों में भी जाम की स्थिति बन गई है।

अब तो पैदल ही चलने लगे हैं लोग

ऑटो, रिक्शा व अन्य वाहनों में सवार यात्री घंटों जाम में फंसने के बाद पैदल चलने को मजबूर हो गए हैं। जगराओं पुल से फिरोजपुर रोड पर जाने के लिए लोग पैदल ही किनारों से होते हुए अपने गंतव्य की ओर जा रहे हैं। हालांकि कई बार पुल निर्माण में जुटे कर्मचारी उन्हें रोकने में लगे रहते हैं। लोग पुल से दुर्गा माता मंदिर चौक तक पैदल आते हैं और फिर वहां से ऑटो और रिक्शा में सवार होकर अपने घर की ओर जाते हैं।

 

 

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें 

 

Posted By: Sat Paul

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!