जागरण संवाददाता, पठानकोट। पठानकोट सहित हिमाचल प्रदेश (Himachal Pradesh) के पर्वतीय क्षेत्रों में पांच दिनों तक हुई तेज बारिश (Heavy Rain) का असर पठानकोट-जोगिंद्रनगर नैरोगेज रेल सेक्शन (Pathankot-Jogindernagar Rail section) पर भी हुआ है। रेल सेक्शन (Rail Section) पर स्थित कोपरलाहड़-ज्वालामुखी के बीच भूस्खलन (Landslide) के चलते पठानकोट (Pathankot) से जोगिंद्रनगर (Jogindernagar) जाने वाली ट्रेनों (Trains) को गुलेर तक चलाने का आदेश जारी हुआ है। इतना ही नहीं रोजाना चल रही छह में से भी केवल दो ट्रेनों ही चलाने के लिए मंडल ने आदेश जारी किया है।

बसों में पांच गुणा अधिक किराया देना हाेगा

सोमवार को केवल दो ही गाड़ियां जोगिंद्रनगर की बजाय गुलेर तक चलाई गई। रेल सेक्शन बाधित होने के कारण जहां रोजाना सफर करने वालों को बसों में पांच गुणा अधिक किराया देना पड़ेगा, वहीं अगर सेक्शन जल्द शुरू नहीं हुआ तो पठानकोट के कारोबार पर भी इसका असर देखने को मिलेगा। कारण, पठानकोट का अधिकतर कारोबार जेएंडके व हिमाचल पर निर्भर है।

यह ट्रेनें चलेंगी

  • पठानकोट से-सुबह 6 बजे -सुबह 10:05 बजे
  • यह ट्रेनें आएंगी गुलेर से -दोपहर 2 बजे-रात्रि 8 बजे।

पठानकोट से यह ट्रेनें की गई हैं रद्द

  • सुबह 8:45 बजे-दोपहर 12:50 बजे
  • दोपहर 3:20 बजे
  • शाम 5:50 बजे

जोगिंद्रनगर से यह ट्रेनें नहीं आएंगी पठानकोट

  • सुबह 8:30 बजे
  • सुबह 11:05 बजे
  • शाम 5:05 बजे
  • रात्रि 9:30 बजे वाली

यह भी पढ़ें-अभिनेता सोनू सूद की बहन माेगा से हाे सकती है कांग्रेस प्रत्याशी, सीएम चन्नी आज करेंगे पार्टी में औपचारिक रूप से शामिल

दो ट्रेनों को ही गुलेर तक चलाने का आदेश

पठानकोट रेलवे अधिकारी ने बताया कि रेल सेक्शन पर हुए भूस्खलन के चलते मंडल ने रोजाना चलने वाली छह में से केवल दो ट्रेनों को ही गुलेर तक चलाने का आदेश जारी किया है। कहा कि ट्रैक पर गिरे मलबे को साफ करने का काम किया जा रहा है। मलबा हटने के बाद मंडल जैसा आदेश जारी करेगा उसके अनुसार ट्रेनों का आवागमन शुरू हो जाएगा।

यह भी पढ़ें-पंजाब विधानसभा चुनावः अब बुजुर्ग व दिव्यांग घर बैठे कर सकेंगे मतदान, बीएलओ घर-घर जाकर देंगे वैलेट पेपर

Edited By: Vipin Kumar