लुधियाना, जेएनएन। समय पर आई सर्दी से होजरी इंडस्ट्री ने इस बार राहत की सांस ली है। इस सीजन में होजरी उद्यमियों बेहतर व्यापार होने की उम्मीद जगी है। सितंबर से भले ही डिस्पेचिंग का दौर जारी है, लेकिन सर्दी के समय पर आने से मार्केट में ऑर्डर बढऩे लगे हैं।

कारोबारियों के मुताबिक इस बार सर्दी लंबी जाने का भी अनुमान है। ऐसे में पिछले साल का बैकलॉग न होने के चलते मार्केट में डिमांड बढ़ी है। खरीदारी बढऩे से होजरी में इस बार कैश फ्लो में भी बेहतर प्रतिक्रिया देखने को मिल सकती है। इस बार परिधानों के दाम में कोई इजाफा भी नहीं हुआ है। इसकी मुख्य वजह प्रमुख रॉ मटीरियल धागे के दाम में किसी तरह की बढ़ोतरी न होना है। इस बार ग्राहकों के लिए परिधान महंगे भी नहीं होंगे और कंपनियों की ओर से यूरोपियन फैशन पर फोकस करते हुए स्वेट शर्ट और सेमीविंटर को भी फोकस किया गया है।

सर्दी की शुरुआत में ही अच्छी प्रतिक्रिया: कोमल जैन

ड्यूक फैशन इंडिया के सीएमडी कोमल कुमार जैन के मुताबिक इस बार सर्दी की शुरुआत में ही अच्छी प्रतिक्रिया देखने को मिल रही है। समय पर आई सर्दी ने होजरी इंडस्ट्री को राहत प्रदान की है। इस बार रिपीट आर्डर भी आने लगे हैं, जो होजरी के लिए अच्छा संकेत है। पिछले साल लंबी सर्दी के चलते स्टॉक क्लीयर हो गया था। ऐसे में इस बार की प्रोडक्शन में भी स्टॉक क्लीयर होने की उम्मीद है।

इस बार और ज्यादा प्रोडक्शन होने की उम्मीद है: विकास खरबंदा

स्मैग रिटेल के एमडी विकास खरबंदा के मुताबिक इस बार का सीजन पिछले पांच साल के सीजन में से बेहतर होने की उम्मीद है। इसकी वजह समय पर सर्दी और पिछले साल मार्केट डिमांड के चलते स्टॉक का क्लीयर होना है। इस बार भी अब धुंध और कोहरे ने दस्तक दे ही दी है। इससे ठंड बढ़ी है। इसको लेकर इंडस्ट्री भी उत्साहित है और इस बार ज्यादा प्रोडक्शन होने की उम्मीद है।

इस बार परिधानों के दाम में इजाफा नहीं: विपिन मित्तल

कुद्दू निट प्रोसेस के एमडी विपिन मित्तल के मुताबिक इस बार परिधानों के दाम में किसी तरह का इजाफा नहीं हुआ है। इसकी मुख्य वजह धागे के दाम में तेजी नहीं आना है। ऐसे में इस बार कंपनियों की ओर से दाम में कोई खास इजाफा नहीं किया जा रहा। वहीं इस बार सीजन अच्छा लगने की उम्मीद है। इसका मुख्य कारण सर्दी का समय पर आना है।

 

 

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

 

Posted By: Sat Paul

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!