लुधियाना, जेएनएन। फौज में भर्ती करवाने के नाम पर एक नौसरबाज ने खुद को फौज का अधिकारी बता युवती से एक लाख रुपये ठग लिए। पीड़िता के पिता ने इसकी शिकायत पुलिस से कर दी है। जांच के बाद थाना शिमलापुरी पुलिस ने प्रीत नगर निवासी अवतार सिंह की शिकायत पर शिमलापुरी निवासी चंदन भूषण पांडे के खिलाफ मामला दर्ज कर तलाश शुरू कर दी है।

शिकायतकर्ता अवतार सिंह के मुताबिक उनकी बेटी ने फौज में भर्ती होना था। इसी दौरान शिमलापुरी में रहने वाले चंदर भूषण पांडे से उनकी मुलाकात हो गई। आरोपित ने कहा कि वह फौज में अफसर है और किसी को भी फौज में भर्ती करवा सकता है। इसके बाद अवतार सिंह ने अपनी बेटी को फौज में भर्ती करवाने को लेकर एक लाख रुपये दे दिए, लेकिन बाद में आरोपित चंदर भूषण ने न तो युवती को फौज में भर्ती करवाया और न ही पैसे वापस किए।

 

पेशी पर ले जाए जा रहे हवालाती बस में भिड़े

सेंट्रल जेल में पेशी के लिए अदालत जा रहे दो हवालाती पुलिस की बस में ही भिड़ गए। दोनों एक दूसरे को जान से मारने पर उतारू हो गए। बस में मौजूद जेल गार्द ने उन हवालातियों को अलग किया। शिकायत मिलने पर थाना डिवीजन सात की पुलिस जांच कर रही है। फिलहाल किसी के खिलाफ केस दर्ज नहीं किया गया है।

एसएचओ हरजिंदर सिंह ने बताया कि घटना मंगलवार सुबह की है। सेंट्रल जेल से हवालातियों को अदालत पेशी पर बस में ले जाया जा रहा था। बस जैसे ही ताजपुर रोड से वर्धमान लाइट चौक पर पहुंची तो उसमें सवार हवालातियों में से दो के बीच किसी बात को लेकर बहस शुरू हो गई। बात हाथापाई तक पहुंच गई। दोनों ने एक-दूसरे पर जमकर लात-घूसे जडऩे शुरू कर दिए। किसी तरह मगर मौके पर मौजूद जेल गार्द ने उनको छुड़ाकर अलग कर दिया।

Posted By: Vikas Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!