लुधियाना, जेएनएन। जिले में शुक्रवार को लगातार दूसरे दिन कोरोना के चार मामले आए। दुखद यह है कि कोरोना संक्रमित शहर के एक कारोबारी की मौत भी हो गई। यह जिले में आठवीं मौत है। इससे पहले लुधियाना में तैनात जालंधर के आरपीएफ जवान की वीरवार को मौत हो गई थी। जिस कारोबारी ने कोरोना से दम तोड़ा है, वह छावनी मोहल्ले का रहने वाला था। पहले उन्हें शहर के एक निजी अस्पताल में दाखिल करवाया गया था। वहां से उन्हें डीएमसी अस्पताल शिफ्ट किया गया। देर शाम उनकी डीएमसीएच में मौत हो गई। अस्पताल प्रबंधन ने इसकी पुष्टि की है। घटना की जानकारी मिलते ही स्वास्थ विभाग की टीमों ने मृतक के परिवार और उनके पड़ोसियों के भी सैंपल लिए हैं। 

तीन अन्य मामलों में शहर के ग्रीन वैली की रहने वाली 33 वर्षीय एनआरआइ महिला, समराला का 27 वर्षीय युवक और दोराहा का 57 वर्षीय बुजुर्ग शामिल हैं। सिविल सर्जन डॉ. राजेश बग्गा ने बताया कि समराला का रहने वाला युवक 20 मई को दिल्ली से लौटा था। वह बिजनेस के लिए दिल्ली गया था। उसकी सैंपलिंग की, तो वह टेस्ट में पॉजिटिव आया।

वहीं एनआरआइ महिला 25 मई को मुंबई से चंडीगढ़ एयरपोर्ट पर पहुंची थी। चंडीगढ़ में ही उसके सैंपल लेकर पीजीआइ भेजे गए और उसकी रिपोर्ट भी पॉजिटिव आई। महिला लंदन में रहती है। वह 14 मार्च को छुट्टियां बिताने के लिए मुंबई प्लेन से उतरी। वहां से वह अपने फ्लैट में चली गई। फ्लैट में पहुंचने पर उसके सैंपल जांच के लिए भेज दिए गए। इसकी रिपोर्ट नेगेटिव आ गई। रिपोर्ट नेगटिव आने के बाद भी महिला को चौदह दिन के लिए क्वारटाइन कर दिया गया और इसी बीच लॉकडाउन हो गया।

महिला के अनुसार ग्रीन वैली में उसके माता-पिता रहते हैं। एनआरआइ महिला को चंडीगढ़ रोड स्थित मदर एंड चाइल्ड अस्पताल में भर्ती करवाया गया है। दूसरी तरफ दोराहा निवासी 57 वर्षीय बुजुर्ग भी कोरोना पॉजिटिव पाया गया। यह मरीज दीप अस्पताल में भर्ती है। वह अपनी किसी बीमारी का इलाज करवाने के लिए आया था। इसके अलावा होशियारपुर के सिविल अस्पताल से शुक्रवार को डीएमसी भेजे गए संदिग्ध मरीज की मौत हो गई है। जानकारी के अनुसार उसके सैंपल होशियारपुर में लिए गए थे। 

बुखार, यूरिन इंफेक्शन और शुगर से पीड़ित था कारोबारी

कारोबारी पिछले छह सात दिनों से बुखार और यूरिन इंफेक्शन की शिकायत होने पर दीप अस्पताल में भर्ती हुआ था। सेहत बिगड़ने पर वीरवार रात्रि डीएमसीएच में भर्ती करवाया गया था। सिविल सर्जन डॉ. बग्गा ने बताया कि प्रारंभिक जांच में पता चला है कि मृतक को पिछले चार साल से डायबिटीज थी। वहीं डीएमसीएच के मेडिकल सुपरिंटेंडेंट डॉ. अश्विनी चौधरी ने बताया कि जब मरीज डीएमसीएच आया तब उसकी हालात बहुत खराब थी। उसे वेंटिलेटर पर रखा गया। मरीज ने शुक्रवार रात्रि साढ़े सात बजे दम तोड़ दिया। 

राहत: चंद्र नगर की महिला, दो आरपीएफ जवान स्वस्थ

जिले में अब कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या 184 हो गई है। हालांकि इसमें एक्टिव केस अब 31 ही हैं। आठ लोगों की अब तक मौत हो चुकी है और बाकी स्वस्थ होकर घर जा चुके हैं। सिविल सर्जन ने बताया कि शुक्रवार को 217 मरीजों के सैंपल टेस्ट के लिए भेजे गए। शुक्रवार को कोरोना पॉजिटिव तीन मरीज स्वस्थ हो गए। इनमें दो दिल्ली के आरपीएफ जवान और एक चंद्र नगर की महिला शामिल है। आरपीएफ जवान सिविल अस्पताल में भर्ती थे और महिला डीएमसी में भर्ती थी। 

नोटिफिकेशन जारी, अब संभल जाएं

अगर आप टू व्हीलर, ऑटो रिक्शा या बस में जा रहे हैं और आपने मास्क नहीं पहना और न ही फिजिकल डिस्टेंस रखा, तो आपको भारी जुर्माना हो सकता है। यह जानकारी सिविल सर्जन डॉ. राजेश बग्गा ने दी। उन्होंने बताया कि डायरेक्टर ऑफ हेल्थ एंड फैमिली वेलफेयर की ओर से शुक्रवार को जारी किए गए नोटिफिकेशन के अनुसार अगर कोई बिना मास्क के सार्वजनिक स्थानों पर पाया गया तो उसे 500 रुपये, होम क्वारंटाइन के नियम का पालन न करने पर 2000 रुपये, सार्वजनिक स्थान पर थूकने पर 500 रुपये का जुर्माना होगा। अगर किसी दुकान के बाहर या कामर्शियल स्थान पर शारीरिक दूरी का पालन नहीं होगा तो दुकान मालिक और कामर्शियल स्थान के प्रबंधक को 2000 रुपये जुर्माना होगा। बसों में शारीरिक दूरी का उल्लंघन करने पर चालक को तीन हजार रुपये, कार चालक को दो हजार रुपये का जुर्माना होगा जबकि टू व्हीलर और ऑटो रिक्शा चालक को 500 रुपये जुर्माना होगा।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!