जेएनएन, लुधियाना। मां भी इतनी बेरहम हो सकती है, ऐसा सोचा न था... लुधियाना के जस्सियां रोड पर स्थित नवनीत नगर में शनिवार को पहले नवरात्र के दिन बेरहम मां ने अपनी साढ़े चार साल की बेटी को दीवार में पटक-पटक कर मार डाला। घटना के बाद आरोपित मां प्रियंका को गिरफ्तार कर लिया गया है और उसकी बेटी दर्पण के शव को पोस्टमार्टम के लिए सिविल अस्पताल में रखवाया गया है।

थाना सलेम टाबरी के एसएचओ इंस्पेक्टर कृष्ण गोपाल ने बताया कि मूल रूप से बिहार के पूर्णिया के रहने वाले टिंकू यादव ने बताया कि वह अपनी पत्नी प्रियंका, साढ़े चार साल की बेटी दर्पण और ढाई माह की दूसरी बेटी के साथ करीब एक महीना पहले ही लुधियाना आया था। वह मार्बल लगाने का काम करता है और यहां किराये के मकान में रहता है। टिंकू के अनुसार उनके घर पर दूसरी बेटी के जन्म के बाद से ही उसकी पत्नी प्रियंका परेशान रहने लगी और हर छोटी-छोटी बात पर झगड़ा करती थी।

शुक्रवार की रात वह सभी खाना खाकर सो गए। शनिवार सुबह उसकी पत्नी प्रियंका जल्दी उठी। उनका बाथरूम छत पर है और वह नहाने के लिए छत पर चली गई। थोड़ी देर बाद उसने आवाज लगाकर बड़ी बेटी दर्पण को शैंपू देने के लिए बुलाया। जब दर्पण उसे शैैंपू देने गई तो उसने बच्ची को दीवार पर जोर-जोर से पटकना शुरू कर दिया।

बच्ची की चीखें सुनकर उनका पड़ोसी उनके पास आया और इस बारे में बताया। जब वह पड़ोसी की बात सुनकर छत पर पहुंचा तो यह देखकर हैरान रह गया कि उसकी पत्नी वहां खड़ी थी और मासूम बेटी की मौत हो चुकी थी। दर्पण का शव छत पर पड़ा था। दीवार और फर्श खून से सने हुए थे। इस घटना के बाद पूरे इलाके में सनसनी फैल गई और इसके बारे में तुरंत पुलिस को सूचना दी गई। पुलिस ने प्रियंका को गिरफ्तार कर लिया है। उसके खिलाफ हत्या का केस दर्ज किया गया है।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!