रायकोट/लुधियाना। बसरावें गांव में मां और उसके दिव्यांग बेटे की हत्या कर दी गई। मृतकों की पहचान गुरजीत कौर (55) पत्नी स्वर्गीय अमरीक सिंह और प्रदीप सिंह (26) के रूप में हुई है। दोनों के शव कमरे के अंदर थे और शरीर पर तेजधार हथियारों के निशान थे। पुलिस की टीम ने मौके पर पहुंच छानबीन की है और आरोपितों का पता लगाया जा रहा है।

गुरजीत कौर और उसका दिव्यांग बेटा बसरावें गांव में एक कमरे वाले मकान में रहते थे। शनिवार सुबह जब रिश्तेदारी से उनके घर पहुंची लड़की ने दरवाजा खटखटाया तो किसी ने जवाब नहीं दिया। काफी देर इंतजार करने के बाद लड़की ने पास में ही काम कर रहीं कुछ महिलाओं से मदद मांगी। इसके बाद जब खिड़की से अंदर देखा तो मां और बेटे की लाशें पड़ी थीं। मौके पर लोगों की भीड़ जुट गई और पुलिस को सूचना दी। थाना सदर प्रमुख इंस्पेक्टर निधान सिंह और थाना सीटी के इंचार्ज अमरजीत सिंह माैके पर पहुंचे और जांच की।

कमरे के अंदर गुरजीत कौर की लाश चारपाई व प्रदीप की लाश जमीन पर पड़ी थी। दोनों के शरीर पर तेजधार हथियार के निशान थे। एसएसपी संदीप गोयल, डीएसपी दिलबाग सिंह ने भी घटना का जायजा लिया। ग्रामीणों ने बताया कि दोनों ही काफी गरीब थे और उनके पास चार बीघे के करीब जमीन थी, जिसका इन्होंने एक दिन पहले ही ठेका दिया था। उसके बदले इन्हें कुछ रकम भी मिली थी। पुलिस सीसीटीवी कैमरों को खंगाल रही है।

 

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें 

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!