जेएनएन, लुधियाना। दशमेश नगर निवासी महिला ने अपने बेटे संग फतेहगढ़ साहिब स्थित बसी पठाना के पास सिधवां नहर में छलांग लगा दी। महिला का शव बरामद हो गया है, जबकि युवक अब भी लापता है। परिजनों ने मॉडल टाउन स्थित शाह अस्पताल के बाहर शव रखकर प्रदर्शन किया। इसके बाद वे बस स्टैंड के बाहर भी प्रदर्शन करने पहुंचे। साढ़े तीन घंटे चले इस प्रदर्शन के दौरान परिजनों ने डॉक्टर के खिलाफ कार्रवाई की मांग की। जसवीर कौर के भाई बलजीत सिंह के अनुसार उसकी बहन जसवीर कौर तकरीबन 23 साल से इसी अस्पताल में गायिनी विभाग में नर्स थी। उसका भांजा राजवीर सिंह वहां पर अकाउंटेंट था। उसका आरोप था कि अस्पताल प्रबंधन ने भांजे पर पांच लाख रुपये गबन के आरोप लगाए थे और कुछ ही समय बाद इस पैसे को दस लाख बता दिया।

नहर में कूद खुदकुशी करने वाले मां बेटे की फाइल फोटो।

दो दिन पहले अस्पताल प्रबंधन ने भांजे को अस्पताल में बैठा लिया और बहन को कागजात लाने के लिए मजबूर किया। जबरदस्ती उसके घर के कागजात अपने पास रखवा लिए और मां-बेटे को जलील किया, जिस कारण शनिवार देर शाम उसकी बहन और भांजे ने नहर में छलांग लगा दी है। महिला के परिजनों ने पहले अस्पताल के बाहर शव रखकर प्रदर्शन किया और बाद में बस स्टैंड के बाहर हाईवे को दोनों तरफ से जाम कर दिया। मौके पर तीन थानों की पुलिस को तैनात कर दिया गया और ट्रैफिक को दूसरे रास्तों से डायवर्ट कर दिया गया।

बस स्टैंड के पास जाम के दौरान ट्रैफिक डायवर्ट करते हुए पुलिस कर्मचारी।

परिजनों ने मांग की है कि डॉक्टर और सुसाइड नोट में लिए नाम के आधार पर पुलिस कार्रवाई करे। दूसरी और एसीपी सिविल लाइन मनदीप सिंह के अनुसार फतेहगढ़ साहिब में पहले से मामला दर्ज है। यहां पर तो कोई कार्रवाई भी नहीं होनी है। परिजन बिना वजह यहां पर प्रदर्शन कर रहे हैं। उधर, डॉक्टर बलवीर शाह और उनके परिजनों के फोन नंबर बंद होने के कारण उनसे संपर्क नहीं हो सका है। एसएचओ जगदीप सिंह बराड़ ने बताया कि डॉ. बलवीर शाह व उनकी पत्नी परमिंदर शाह के खिलाफ फतेहगढ़ साहिब के बसी पठाना में 306, 34 आइपीसी के तहत मामला दर्ज है। इसके अलावा दो अन्य पर भी मामला दर्ज है।

डॉक्टर से घर के कागज लेकर पुलिस मां को दे दे

मृतका जसवीर कौर से मिले सुसाइड नोट के अनुसार उसने शाह अस्पताल के मालिक डॉ. बलवीर शाह और उसके रिश्तेदारों को उसकी व उसके बेटे राजवीर सिंह उर्फ धनकृष्ण की मौत के लिए जिम्मेदार ठहराया है। सुसाइड नोट में उसने डॉक्टर पर मकान के रजिस्ट्री और दूसरे कागजात जबरदस्ती रखने के आरोप लगाए हैं। इसके बाद यह भी लिखा है कि पुलिस उसके कागजात डॉक्टर से लेकर उसकी मां को दे दे।

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!