लुधियाना, जेएनएन। मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह के प्रधान सलाहकार प्रशांत किशोर की आवाज में कांग्रेस नेताओं से बात कर उन्हें टिकट दिलाने के नाम पर ठगने वाले मुख्य आरोपित को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। आरोपित की पहचान अमृतसर के मजीठा मार्ग पर स्थित 88 फुटा रोड के रहने वाले गौरव शर्मा उर्फ गोरा के रूप में हुई है। थाना डेहलों की पुलिस कई दिन से उसकी तलाश में थी। सोमवार को उसे अदालत में पेश कर चार दिन का रिमांड हासिल किया गया है।

एडीसीपी जसकिरनजीत सिंह तेजा ने बताया कि गौरव शर्मा को अमृतसर से गिरफ्तार किया है। प्रारंभिक पूछताछ में उसने माना कि राजस्थान के एक नेता से दो करोड़ रुपये की ठगी की है। इस मामले में राजस्थान पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर जेल भी भेजा था। 40 दिन बाद वह जमानत पर जेल से बाहर आ गया था। अभी तक ठगी की राशि की बरामदगी नहीं हो पाई है। उन्होंने कहा कि रिमांड के दौरान ठगी के कई अन्य मामलों से पर्दा उठने की भी उम्मीद है। पुलिस ने इससे पहले पिछले शुक्रवार को गौरव के दो साथियों राकेश कुमार उर्फ भसीन और रजत कुमार पीए उर्फ राजा उर्फ मदान को गिरफ्तार कर लिया था। वह दोनों भी अमृतसर के रहने वाले हैं। तीनों मिलकर प्रशांत किशोर के नाम पर कांग्रेस नेताओं को विधानसभा चुनाव में टिकट दिलाने का झांसा देकर ठगी कर रहे थे।

 जुआ खेलने के शौकीन गौरव के नशा तस्करों से भी हैं संबंध

गौरव शर्मा उर्फ गोरा जुआ खेलने का शौकीन है और नेताओं से ठगी करने के बाद जो पैसा उसके हिस्से आता है वह उससे वह जुआ खेलता है। उसके अंतरराष्ट्रीय नशा तस्करों के साथ संबंध भी हैं। वह उनसे नशा मंगवाकर कई राज्यों में सप्लाई करता रहा है। उस पर पंजाब व राजस्थान पर धोखाधड़ी व नशा तस्करी के पांच मामले भी दर्ज हैं।