लुधियाना, जेएनएन। पंजाब की आर्थिक राजधानी लुधियाना का रेलवे स्टेशन सुनसान पड़ा हुआ है। किसान आंदोलन के चलते लगातार तीसरे दिन ट्रेनों का परिचालन ठप रहने से यात्रियों का आना जाना बंद होने से स्टेशन खाली पड़ा हुआ है।

कोविड-19 के चलते रेलवे को पहले ही भारी नुकसान झेलना पड़ रहा है। ऊपर से किसान आंदोलन के चलते यात्रियों को भी परेशानियाें का सामना करना पड़ रहा है। जो ट्रेनें चलती थी उनमें यात्रियों का रिजर्व टिकट होने से सभी जरूरी काम से सफर के लिए तैयार थे, लेकिन किसान आंदोलन के चलते ट्रेनों को रद करने के कारण यात्रियों को निराशा हाथ लगी है।

लुधियाना रेलवे स्टेशन पर यात्री केवल आरक्षण केंद्र पर रिजर्व टिकट वापसी के लिए आते रहते हैं। ट्रेनों का परिचालन कब शुरू होगा इस बारे में स्टेशन अधीक्षक अशोक सिंह सलारिया से बात करने पर उन्होंने कहा कि आज तक ट्रेनों का परिचालन बंद है। वहीं रविवार से ट्रेनें चलेंगी या नहीं इसके लिए सूचना मिलने के बाद ही कुछ कहा जा सकता है। चर्चा यह भी है कि किसान आंदोलन की डेट बढ़ा सकते हैं, जिससे ट्रेनों का परिचालन मुश्किल हो जाएगा।         

 स्टेशन खाली,  पुलिस टीम  चौकस    

लुधियाना रेलवे स्टेशन पर ट्रेनों का आवागमन यात्रियों का यहां आना जाना ठप होने से खाली पड़ा हुआ है, लेकिन सुरक्षा को लेकर जीआरपी, आरपीएफ व जिला पुलिस तत्पर है। खाली स्टेशन पर भी जिला पुलिस की ओर से एडीसीपी दीपक पारेख की अगुअाई में पुलिस पार्टी दिन में दो-तीन बार गश्त लगा रही है।

इसके अलावा आरपीएफ व जीआरपी रात दिन मुस्तैदी के साथ ड्यूटी कर रही है। इस संबंध में आरपीएफ के पोस्ट कमांडर अनिल कुमार व जीआरपी के प्रभारी बलविंदर सिंह घुम्मन ने कहा कि रेलवे की सुरक्षा पुख्ता है और पुलिस टीम लगातार चौकसी बरत रही है। 

 

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें 

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

 

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!