जागरण संवाददाता, लुधियाना : शहर के अलग-अलग एरिया में चोरी और छीना-झपटी की एक दर्जन से भी ज्यादा वारदातों को अंजाम देने वाले गिरोह के आठ सदस्यों को पुलिस ने काबू किया है। इनके पास से पुलिस ने दो जेन कार, एलईडी, होम थियेटर और गारमेंट का सामान बरामद किया है। पुलिस की ओर से इसकी कीमत 20 लाख के करीब बताई जा रही है। इन सभी को पुलिस ने अलग-अलग जगहों से काबू किया है।

थाना सदर में मंगलवार को पत्रकारवार्ता के दौरान एडीसीपी सु¨रदर लांबा ने बताया कि थाना सदर पुलिस ने राहुल रानानिवासी बेगमपुरा नवांशहर, कुलवीर सिंह भोला दुगरी लुधियाना, दिनेश कुमार उर्फ नंदू बस्ती बाबा खेल, जालंधर, हैदर अली निवासी विजय नगर लुधियाना, साहिल बाबा बंदा सिंह बाहदुर फुलावाल लुधियाना, आसब हुसैन निवासी चंडीगढ़ रोड लुधियाना, लखवीर सिंह निवासी फूलावाल लुधियाना व वीनू उर्फ मोनू निवासी राहों रोड लुधियाना को काबू किया है। पुलिस ने इनसे दो जेन कार, 12 एलईडी, 10 मोबाइल फोन, तीन होम थियेटर और गार्मेट्स के कपड़े बरामद किए हैं। इन्हें गिरफ्तार करने से शहर में अलग-अलग जगहों पर हुई चोरी और लूट के 14 आपराधिक मामले सुलझ गए हैं। पीएयू एरिया में शोरूम में चोरी व की होटल के पीछे फाइनांसर से लूट इन्होंने ही की थी। आरोपितों से पूछताछ के बाद कई अन्य वारदातों का खुलासा होने की उम्मीद है। झपटमारी में ट्रेस हुआ सदस्य, तो हाथ लगा गिरोह

दरअसल छह सितंबर की रात को रिशी नगर के अंशुल जैन की बेटी से मोबाइल छीना गया था। इस वारदात में राहुल राना नामक युवक पुलिस के हाथ लग गया। राहुल से पूछताछ के बाद दिनेश कुमार नंदू और हैदर अली को पुलिस ने पकड़ा। इन तीनों से पूछताछ के बाद पुलिस ने बाकी सभी को गिरफ्तार किया है। चोरी का सामान रिटेल में बेचते थे

सभी आरोपित चोरी हुआ माल अलग-अलग जगहों पर यह कहकर बेचते थे कि उनके मालिक को घाटा पड़ गया है, इसलिए वे यह सामान बेच रहे हैं। पुलिस ने दो एलईडी तो जगराओं से बरामद की हैं। बाकी का सारा सामान आठों के पास से अलग अलग जगहों पर कमरों से मिला है।

Posted By: Jagran