जेएनएन, लुधियाना। शिरोमणि अकाली दल उन अफसरों के खिलाफ मामला दर्ज करने की मांग कर रहा है, जिन्होंने जेल में कैदियों पर गोलियां चलाई। साथ ही अकाली दल ने जेल मंत्री सुखजिंदर सिंह रंधावा के इस्तीफे की मांग की। पार्टी ने सरकार से यह भी पूछा की किसके इशारे पर जेल में गोलीबारी का आदेश दिया गया था। पूर्व मंत्री और साहनेवाल से विधायक शरणजीत सिंह ढिल्लों के नेतृत्व में शिरोमणि अकाली दल के नेताओं ने जेल में मारे गए सनी सूद के परिवार के सदस्यों से मुलाकात की।

मीडिया से बात करते हुए ढिल्लों ने कहा कि जेल कर्मचारियों को कैदियों के साथ मारपीट करने का कोई अधिकार नहीं है। सनी सूद के परिवार वालों ने बताया कि जब सनी ने जेल अधिकारियों को जबरन वसूली की रकम देने से इनकार कर दिया तो उसके साथ मारपीट की गई। विधायक ने कहा कि जेल के कैदियों ने इस बात के खिलाफ आवाज उठाने की कोशिश की, जिसके बाद पुलिस और जेल मुलाजिमों ने कैदियों पर गोलियां चलाई।

शरणजीत सिंह ढिल्लों ने कहा कि जेल में कैदियों के पास कोई हथियार नहीं थे, और गोलीबारी का कोई कारण नहीं था। ढिल्लों ने कहा कि अकाली दल परिवार को न्याय दिलाने के लिए उसका साथ देगा। उनकी पार्टी दोषी पुलिस कर्मियों के खिलाफ कार्रवाई और जेल मंत्री सुखविंदर सिंह रंधावा के इस्तीफे की मांग करती है। अकाली दल के जिला अध्यक्ष रणजीत सिंह ढिल्लों, युवा अध्यक्ष गुरदीप सिंह गोशा, बाबा अजीत सिंह, विजय दानव, जगबीर सिंह सोखी, सुरिंदर कौर दयाल, मनप्रीत सिंह मन्ना, सतीश मल्होत्रा, गुरिंदरपाल सिंह पप्पू, यशपाल चौधरी, कनोज दानव, लवली दुआ, मनिंदर सिंह लाड्डी और तरनदीप सनी उपस्थित रहे।

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!