जासं, लुधियाना : स्वतंत्रता दिवस के मद्देनजर दिल्ली बड़ौदा हाउस ने हाई अलर्ट जारी कर स्टेशनों की सुरक्षा व्यवस्था बढ़ाने के निर्देश जारी किए हैं। लेकिन नफरी कम होने के कारण आरपीएफ और जीआरपी को कई तरह की परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। रविवार को जीआरपी और आरपीएफ ने स्टेशन पर रेल मुलाजिमों ने सुरक्षा प्रबंध का जायजा लिए। वहीं अधिकारियों ने जीआरपी को निर्देश दिया कि वह स्टेशन परिसर, यात्री विश्रामालय, प्लेटफार्म पर सुरक्षा प्रबंध और पुख्ता करें। मुख्य गेट और दो नंबर पर पुलिस टीम चेकिंग को और सख्त करें। स्टेशन पर सुरक्षा में लापरवाही

लुधियाना रेलवे स्टेशन सुरक्षा की कसौटी कांप रहा है। यहां पुलिस कर्मी डयूटी से नदारद रहते हैं। मेन गेट पर डयूटी करने वाले पुलिस कर्मियों की कुर्सी पर यात्री आराम फरमाते हैं। मेन गेट पर एक ओर मेटल डिडेक्टर गेट है वह भी खराब है, जबकि दूसरी ओर गेट लगा ही नहीं हैं। वहीं स्टेशन परिसर पूर्ण रूप से खुला है, जहां से कोई भी सरेआम आ जा सकते हैं। इससे साफ है सुरक्षा व्यवस्था ही खतरे में है। जीआरपी-आरपीएफ में नफरी की कमी

एसएचओ इंद्रजीत सिंह का कहना है कि यात्रियों की सुरक्षा में पुलिस जुटी हुई। पुलिस टीम सादी वर्दी में भी डयूटी पर तैनात है। आरपीएफ कमांडर पवन वशिष्ठ ने कहा कि आरपीएफ टीम यात्रियों और रेल संपत्ति की सुरक्षा के में तत्पर है। दोनों अधिकारियों से पूछे जाने पर कि क्या पुलिस फोर्स की कमी है और व्यवस्था में दिक्कत हो रही है तो उन्होंने सवाल को टालते हुए कहा कि ऐसी कोई बात नहीं है। यात्रियों की सुरक्षा को लेकर पुलिस चौकस : डायरेक्टर

लुधियाना रेलवे स्टेशन के डायरेक्टर अभिनव सिंगला ने कहा कि स्टेशन व ट्रेनों में यात्रियों की सुरक्षा को लेकर पुलिस चौकस है। ट्रेनों में पुलिस लगातार चेकिंग कर रही है। सीनियर रेल अधिकारी से डेली सुरक्षा पर रिपोर्ट विभाग के शीर्ष अधिकारी को सौंप जा रहा है। स्टेशन पर जीआरपी आरपीएफ चौकसी में जुटी है। मुलाजिमों को अवकाश नहीं

स्वतंत्रता दिवस को लेकर स्टेशन पर सख्ती बरती जा रही है। विभाग की ओर से मुलाजिमों को मिलने वाली अवकाश पर पाबंदी लगा दी है। स्वतंत्रता दिवस तक किसी मुलाजिम को अवकाश नहीं मिलेगा।

By Jagran