जागरण संवाददाता, लुधियाना। विभिन्न मामलों में नामजद हुए 6 आरोपित अदालत से जमानत मिलने के बाद फरार हो गए। अब संबंधित थानों की पुलिस ने उनके खिलाफ चार केस दर्ज करके उनकी तलाश शुरू की है।

थाना फोकल प्वाइंट पुलिस ने उत्तर प्रदेश के जिला सहारनपुर के अंर्तगत आते थाना जलालाबाद के गांव सराय निवासी गुरिंद पर केस दर्ज किया।

एएसआई अजमेर सिंह ने बताया कि 1992 में उसके खिलाफ नशा तस्करी के आरोप में केस दर्ज हुआ था। जिसमें 1997 में अदालत ने उसे भगाेड़ा करार दे दिया। थाना डिवीजन नंबर 7 पुलिस ने बिहार के जिला छपरा के थाना इसेपुर स्थित गांव अरमदा निवासी नरिंदर शाह के खिलाफ केस दर्ज किया। एएसआई सुरेश कुमार ने बताया कि उसके खिलाफ 2006 में केस दर्ज किया गया था। जिसमें 2009 में अदालत ने उसे भगोड़ा करार दे दिया।

थाना डिवीजन नंबर 7 पुलिस ने बिहार के जिला आरा के गांव ब्रहमपुत्रा निवासी धर्मवीर कुमार के खिलाफ केस दर्ज किया। एसआई सुखविंदर सिंह ने बताया कि उसके खिलाफ 2008 में केस दर्ज हुआ था। जिसमें अदालत ने 2009 में उसे भगोड़ा घाेषित कर दिया था। थाना फोकल प्वाइंट पुलिस ने गांव गाेबंदगढ़ निवासी मुन्ना, प्यारा लाल तथा हरिद्वार के खिलाफ केस दर्ज किया। एएसआई राजिंदर पाल ने बताया कि 2001 में उनके खिलाफ केस दर्ज किया गया था। जिमसें 2009 में अदालत ने उन्हें भगोड़ा करार दे दिया।

ट्रैक्टर ट्राली पर शराब रखकर गावों में बेचने वालों के खिलाफ मुकदमा दर्ज

संवाद सहयोगी,जगराओं। बाहरी राज्यों से सस्ते दाम पर शराब लेकर गावों में बेचने वाले 2 लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया। जबकि आरोपित मौके से फरार होने में सफल हो गए। एएसआइ गुरनाम सिंह ने बताया कि वह राजन सहगल एक्साइज इंस्पेक्टर, हरदीप सिंह एक्साइज इंस्पेक्टर सरकल सदर जगराओं और पुलिस पार्टी चेकिंग दौरान मेन जीटी रोड रायकोट मुल्लापुर टी पॉइंट नूरपुर में मौजूद थे। वहां पर उन्हें सूचना मिली थी गुरप्रीत सिंह और जगजीत सिंह बाहरी राज्यों से शराब लेकर गावों में बेचने का धंधा करते हैं ।

Edited By: Vipin Kumar