जागरण संवाददाता, लुधियाना। Fraud In Ludhiana: सिलाई मशीन फर्म में काम करने वाले मैनेजर ने लाखों रुपये कीमत की मशीनें दूसरी कंपनियों के बिल काट कर बेच डाली और उनसे मिली रकम खुद डकार गया। पोल खुलने पर उसने कंपनी मालिकों से माफी मांगते हुए रुपये वापस लौटाने का वादा किया। मगर समय पर जब उसने वादा नहीं निभाया तो मामले की शिकायत पुलिस को दी गई।

अब थाना डिवीजन नंबर-8 पुलिस ने धोखाधड़ी व अन्य आपराधिक धाराओं के तहत केस दर्ज करके उसकी तलाश शुरू की है। एएसआइ सुखविंदर सिंह ने बताया कि आरोपित की पहचान राहों रोड के न्यू सुभाष नगर निवासी रणवीर सिंह के रूप में हुई है। पुलिस ने फिरोजपुर रोड के नोबल इंक्लेव स्थित सारा इंटरनेशनल प्राइवेट लिमिटेड फर्म के सहायक मैनेजर जगदीप सिंह की शिकायत पर उसके खिलाफ केस दर्ज किया।

अपने बयान में उसने बताया कि आरोपित 2016 से उनकी फर्म में मैनेजर के पद पर काम कर रहा था। अगस्त 2021 में रुटीन स्टाक चेकिंग के दौरान उसे फर्म की 1.40 लाख रुपये कीमत की दो मशीने कम नजर आईं। पूछने पर रणवीर सिंह ने बताया कि वो मशीने उसने बेच दी हैं, मगर उनके बिल अभी काटने बाकी हैं। उसके बाद जब जगदीप सिंह ने पूरा स्टाक चेक किया तो पता चला कि कंपनी की 29 लाख की मशीनें इधर उधर की गई हैं।

उसने पूरा मामला नोएडा में अपने मालिकों के संज्ञान में लाया। इस पर रणवीर सिंह को नोएडा बुलाकर बातचीत की गई तो उसने अपनी गलती मानते हुए लिखित रूप में दिया कि वो अक्टूबर 2021 तक कंपनी की पूरी रकम जमा करा देगा। उसने उसी दिन इस्तीफा भी दे दिया, मगर उसके बाद वो गायब हो गया। मामले की शिकायत पुलिस के पास देनी पड़ी। सुखविंदर सिंह ने कहा कि आरोपित के ठिकानों पर दबिश दी जा रही है। जल्दी ही उसे काबू कर लिया जाएगा।

यह भी पढ़ेंः- पंजाब के 4 ऐतिहासिक मंदिरः संस्कृति व खूबसूरती ही नहीं, अपने हजारों साल पुराने इतिहास के लिए हैं मशहूर

Edited By: Deepika