जासं, लुधियाना। डाबा के राम नगर इलाके में देह व्यापार के अड्डे का पर्दाफाश हुआ है। पुलिस ने दबिश देकर अड्डे की संचालिका व तीन महिलाओं समेत 7 लोगों को गिरफ्तार किया है। एक व्यक्ति मौके पर फरार होने में सफल हाे गया। यहां दो हजार रुपये में किराये पर कमरा देकर लड़कियां उपलब्ध करवाई जात थी। मौके से पुलिस ने देह व्यापार करके कमाई गई 15 हजार रुपये की नगदी भी बरामद की है। सभी आरोपितों के खिलाफ इमोरल ट्रैफिक एक्ट के तहत केस दर्ज करके छानबीन की जा रही है।

एसआइ मनजिंदर कौर ने बताया कि आरोपितों की पहचान सिटी गार्डन कालोनी के अंकुश वर्मा, न्यू सतगुरु नगर निवासी राजवीर सिंह, कैप्टन नगर निवासी संबोध कुमार, राम नगर निवासी रजनी, गांव डाबा निवासी मनोरमा, आजाद नगर निवासी लवप्रीत कौर और राम नगर निवासी राधा के रूप में हुई है। फरार हुआ आरोपित गुरु अर्जुन देव नगर निवासी अभिषेक जलोटा है।

तीन आरोपित गिरोह बनाकर चला रहे थे अड्डा

पुलिस को रविवार गुप्त सूचना मिली थी कि अंकुश वर्मा, अभिषेक जलाेटा तथा रजनी ने मिलकर गिरोह बना रखा है। ये तीनों मिल कर रजनी के घर में देह व्यापार का अड्डा चलाते हैं। गलत काम के लिए 2 हजार रुपये लेकर कमरा भी किराये पर देते हैं। सूचना के आधार पर की गई रेड के दौरान 7 लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया जबकि अभिषेक की गिरफ्तारी के लिए उसके ठिकानों पर दबिश दी जा रही है। पकड़े गए आरोपितों को सोमवार अदालत में पेश किया गया, जहां से एक दिन का रिमांड हासिल करके कड़ी पूछताछ की जा रही है। 

एक दिन पहले पटियाला में पकड़ा था जिस्मफरोशी रैकेट 

पंजाब में देह व्यापार के मामले बढ़ रह हैं। रविवार को पटियाला पुलिस ने थाना लाहौरी गेट स्थित बस स्टैंड के पास बने होटल में चल रहे देह व्यापार का भंडाफोड़ किया था। मामले में पुलिस ने छापेमारी कर आठ लोगों को गिरफ्तार किया था। पुलिस ने एक महिला व तीन लड़कियों सहित चार ग्राहकों को दबोचने में सफलता प्राप्त की थी। 

यह भी पढ़ें - Tokyo Olympics 2021: अमृतसर के किसान की बेटी ने ओलिंपिक में रचा इतिहास, गुरजीत काैर के गोल से सेमीफाइनल में पहुंची भारतीय हॉकी टीम

Edited By: Pankaj Dwivedi