जासं, लुधियाना। शहर में बुजुर्ग महिलाओं को लिफ्ट देने का झांसा देकर सोने के जेवर उड़ाने वाले गैंग को पुलिस ने गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की है। पकड़े गए गैंग में तीन महिलाएं और एक पुरुष है। ये गैंग पंजाब और हरियाणा में लूट की 100 से ज्यादा वारदातें कर चुका है।

पिछले एक महीने दौरान केवल लुधियाना में इसी गैंग ने लगातार 6 वारदातें करके पुलिस की नींद उड़ा दी थी। आराेपिताें के कब्जे से वारदातों में इस्तेमाल की गई स्विफ्ट कार व सोने के 10 जेवर बरामद किए है। पुलिस आराेपिताें से कड़ी पूछताछ में जुटी है। गाैरतलब है कि शहर में चाेरी और लूटपाट के साथ ही स्नैचिंग की वारदातें बढ़ने से लाेगाें में दहशत का माहाैल है।

यह भी पढ़ें-हालीवुड फिल्मों से आइडिया ले नाइट्रोजन से की थी मंगेतर की हत्या, पटियाला मर्डर केस में चौकाने वाला खुलासा

जीतो है गैंग की मास्टरमाइंड

सीआइए इंचार्ज इंस्पेक्टर हरमिंदर सिंह ने बताया कि जीतो गैंग की मास्टरमाइंड है। तीनों महिलाएं सेंसी बिरादरी से संबंधित हैं और आपस में रिश्तेदार हैं। यह तीनों दस साल से वारदात कर रही हैं।

यह भी पढ़ें-लुधियाना के विहिप नेता अरोड़ा की गिरफ्तारी के लिए 1 लाख रुपये का ईनाम घाेषित, जानें मामला

कई केसों में महिलाएं घोषित हैं भगोड़ा

जीतो के खिलाफ एसबीएस नगर के थाना बलाचौर में वर्ष 2012 में, पटियाला के नाभा के थाना कोतवाली में वर्ष 2014 में भी केस दर्ज हुए थे। दोनों मामलों में वह भगोड़ा करार है। इसके अलावा मोगा के थाना बाघापुराना और जालंधर में भी उस पर केस दर्ज हैं। वहीं, गोगा के खिलाफ जालंधर, खन्ना, हरियाणा के फतेहाबाद जिले के थाना भूना और थाना टोहाना में पहले से छह केस दर्ज हैं। रज्जी के खिलाफ थाना फतेहगढ़ साहिब में और गैंग के ड्राइवर सुखचैन सिंह के खिलाफ पटियाला के थाना बख्शीवाला और त्रिपड़ी में तीन केस दर्ज हैं।

यह भी पढ़ें-Smuggling In Ludhiana: लुधियाना में हेरोइन, गांजा व 2.80 लाख ड्रग मनी समेत 3 तस्कर गिरफ्तार

Edited By: Vipin Kumar