जासं, लुधियाना। सिख गुरु के बारे में अपशब्द बोलने के मामले में नामजद हुए विश्व हिन्दू परिषद के नेता अनिल अरोड़ा की गिरफ्तारी को लेकर पिछले छह दिन से तलाश कर रही कमिशनरेट पुलिस ने इश्तिहार जारी किया है। अराेड़ा के बारे में सूचना देना वाले को एक लाख रुपये इनाम देने की घोषणा की है। उसके बारे में जानकारी देने वाले का नाम गुप्त रखने का आश्वासन भी इश्तिहार में लिखा गया है। पुलिस को उम्मीद है कि उसके इस प्रयास से शायद वह आरोपित को जल्द गिरफ्तार कर लेगी।

बता दें कि आरोपित की गिरफ्तारी को लेकर शहर के विभिन्न सिख संगठनों ने सोमवार सुबह से समराला चौक में धरना दे रखा है। जिससे शहर की पूरी ट्रैफिक व्यवस्था चरमरा गई थी। पुलिस अधिकारियों की गुजारिश पर धरणाकारी देर शाम मुख्य चौक से हट कर साथ वाले पार्क में जाकर बैठ गए। मगर उनकी चेतावनी थी कि यदि 48 घंटों के भीतर आरोपितों को गिरफ्तार न किया गया तो प्रदर्शन और तेज किया जाएगा।

48 घंटे में करें गिरफ्तार

शाम को पुलिस के आग्रह पर प्रदर्शनकारी मुख्य सड़क से हट कर पार्क में बैठ गए। उन्होंने पुलिस प्रशासन से कहा कि अगर 48 घंटे में गिरफ्तारी नहीं हुई तो वह संघर्ष तेज करेंगे। प्रदर्शन कर रहे सिख संगठनों के लिए दोपहर के समय धरना स्थल पर ही खाने की व्यवस्था की गई। जब तक धरना चलेगा प्रदर्शनकारियों के लिए गुरुद्वारा दुख निवारण साहिब की ओर से लंगर की व्यवस्था की गई है। दूसरी और एसीपी सेंट्रल हरसिमरत सिंह का कहना है कि प्रदर्शनकारियों को सड़क से हटाने के बाद शाम छह बजे ट्रैफिक शुरू हो गया है। दो दिन में आरोपितों को पकड़ लिया जाएगा।

अरोड़ा बोले, किसी ने फर्जी आइडी बनाकर रची साजिश

वहीं अनिल अरोड़ा ने फेसबुक पर लाइव होकर कहा है कि उसने क्लब हाउस का खाता एक माह पहले ही बंद कर दिया है। किसी ने फेसबुक से उनकी फोटो निकाल कर फर्जी आइडी बनाई और क्लब हाउस में ज्वाइन कर उसकी आवाज निकाली है। इसकी शिकायत वह पुलिस कमिश्नर सहित अन्य अधिकारियों को दे चुके हैं। उस आवाज की जांच करवाई जाए। अगर वह आवाज उनकी निकलती है तो वह सजा के लिए तैयार हैं।

Edited By: Vipin Kumar