जागरण संवाददाता, लुधियाना। ग्रोथ के लिए आफसेट प्रिंटर्स एसोसिएशन ने कुरुक्षेत्र विश्वविद्यालय के साथ एक अनुबंध किया है। इसमें एसोसिएशन और विश्वविद्यालय प्रिंटिंग और पैकेजिंग की एडवांस तकनीक को लेकर मिलकर काम करेंगे। यह मेमोरैंडम आफ अंडरस्टैंडिंग (एमओयू) यूनिवर्सिटी के वाइस चांसलर प्रो. सोमनाथ सचदेवा संग किया गया है।

प्रिटिंग एवं पैकेजिंग को लेकर आपार संभावनाएं

इस बारे में जानकारी देते हुए ओपीए प्रधान प्रवीण अग्रवाल ने कहा कि प्रिटिंग एवं पैकेजिंग को लेकर आपार संभावनाएं हैं और इसमें ग्रोथ के लिए कई तरह की नए बदलाव आ रहे हैं। ऐसे में छात्रों को इंडस्ट्री के साथ जोड़कर नई तकनीकों पर काम किया जा सकता है। इसके साथ ही विश्वविद्यालय में नए युवा प्रिंटर तैयार किए जा रहे हैं, जो देश का और इस सेक्टर का भविष्य है।

यह भी पढ़ें-शहर जैसा ये गांव, लुधियाना के जनेतपुरा की सड़कों पर लगे 20 CCTV कैमरे और मिरर; स्मार्ट स्कूल में पढ़ते हैं बच्चे

 

 युवाओं को प्रोत्साहित करने काे किए जा रहे आयाेजन

ओपीए की ओर से युवाओं को प्रोत्साहित करने के लिए प्रिंट चेतना और प्रिंट ओलंपियाड जैसे आयोजन भी किए जा रहे हैं। अकादमी डीन प्रो. मंजुला चौधरी ने कहा कि एजूकेशन के साथ प्रैक्टिकल के लिए इंडस्ट्री का अनुबंध लाभदायक सिद्द होगा। विश्व प्रिंट एवं कम्युनिकेशन फोरम के चेयरमैन प्रो. कमल चौपड़ा ने कहा कि प्रिटिंग उद्योग में एक्सपर्ट और काबिल लोगों की अहम आवश्यकता है। आत्मनिर्भर भारत के स्वप्न को पूरा करने के लिए युवाओं के ज्ञान और कौशल को अपग्रेड करना बेहद जरूरी है। इस अनुबंध से जहां युवाओं को मौजूदा इंडस्ट्री की बारिकियों का पता लगेगा, वहीं नई इनोवेशन से इस सेक्टर को भारी लाभ होगा।

यह भी पढ़ें - Tokyo Olympic: हाकी में न्यूजीलैंड के खिलाफ छाए 'पंजाबी गबरू', हरमनप्रीत और रुपिंदरपाल ने मचाया धमाल

यह भी पढ़ें - Broccoli Price 1Kg in Punjab: ब्रोकली ने मारी डबल सेंचुरी, छोटी मंडियों के विक्रेता आर्डर पर ही कर रहे खरीद

 

Edited By: Pankaj Dwivedi