जासं, लुधियाना : चुनाव हो और नेताओं के दफ्तरों में देर रात तक कार्यकर्ताओं और समर्थकों का जमावड़ा न हो ऐसा हो नहीं सकता। शहर में निगम चुनाव पूरे शबाब पर हैं और कार्यकर्ता व समर्थक भी नेताओं से शराब की डिमांड कर रहे हैं। नेता जी कार्रवाई की डर से अपने दफ्तर में खुलेआम न तो शराब स्टोर कर पा रहे हैं और न ही कार्यकर्ताओं के लिए शराब परोस पा रहे हैं। समर्थकों को खुश करने के लिए नेताओं ने एक नायाब तरीका निकाला है। वह समर्थकों को 10 रुपये का स्पेशल नोट दे रहे हैं जिसमें उन्हें ठेके से शराब मिल रही है। चुनाव के दौरान नेताओं के दफ्तरों पर चुनाव आयोग की विशेष नजर रहती है। इसलिए नेताओं ने ठेके वालों को एडवांस पेमेंट कर दी और साथ ही उन्हें दस के नोटों की सीरीज नोट करवा दी। अब नेता उसी सीरीज के नोट अपने समर्थकों को दे रहे हैं जो कि ठेके पर जाकर देते हैं और अपने हिस्से की शराब लेकर चल जाते हैं। बाद में ठेके के कर्मचारी नेता को उन्हीं नोटों को वापस कर देते हैं। ऐसा हिसाब किताब रोज का रोज चल रहा है। बाक्स हर ब्रांड के लिए है अलग सीरीज समर्थकों को उनके स्टेटस के हिसाब से शराब दी जा रही है। जानकारी के मुताबिक नेताओं ने ठेकेदारों के साथ सांठ गांठ की और उन्हें अलग अलग ब्रांड के लिए अलग अलग सीरीज के नंबर नोट करवाए हैं। अब जो कार्यकर्ता जिस सीरीज का नंबर लेकर जाता है उसे उसी सीरीज की बोतल दी जाती है।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!