खन्ना, (लुधियाना) जेएनएन। एशिया की सबसे बड़ी अनाज मंडी खन्ना के बूथों के आगे वाला रास्ता बरसात के दिनों में दुकानदारों के लिए मुसीबत का घर बन गया है। बरसात के बाद बनी दलदल और कीचड़ से एरिया की हालत बद से बदतर बन चुकी है। दुकानदारों की तरफ से कई बार मार्केट कमेटी के ध्यान में इस रास्ते की समस्या लाई गई पर किसी अधिकारी ने हल नहीं किया। यह बार शिरोमणि अकाली दल नेता यादविंदर सिंह यादू ने कही।

इलाके का दौरा करने के वक्त यादू ने कहा कि अब बरसात के दिन दुकानदारों के लिए आफत बन गए हैं। दुकानदारों को आने-जाने की दिक्कत आ रही है। सभी के कारोबार प्रभावित हो रहे हैं। दुकानदारों ने कई बार रास्ता ठीक करने और जलभराव का हल करने के लिए मार्केट कमेटी से अपील की है पर प्रशासन और सरकार के कान पर जूं नहीं सरक रही।

कई बुजुर्ग दुकानदार रास्ता सही न होने के कारण चोटें खा चुके हैं। यादू ने कहा कि कांग्रेस की सरकार के साढ़े चार साल बीत चुके हैं परन्तु खन्ना के लिए कांग्रेस की तरफ से कुछ नहीं किया गया। यादू ने आगे कहा कि दुकानों के आगे जमा पानी के कारण मच्छरों की भरमार हो चुकी है, जिस कारण अनाज मंडी में आढ़ती, म•ादूर और किसान बीमारियों का शिकार हो सकते हैं।

यह भी पढ़ें-Tokyo Olympics: खेलों के महाकुंभ में बेटी को देख भर आईं मां की आंखें, बाेली-सिमरनजीत की होगी जीत

 

ये रहे माैजूद

इस मौके दुकानदार नरेश दादा, राजेश खन्ना, सुरिन्दर शर्मा छिंदी, राजेश तिवारी, जगदीश सिंह सेखों, अशीष कुमार शर्मा, आशु शर्मा, राम सिंह रम्मी, सतनाम, रविंदर कुमार, अमित शर्मा, राजेश जैन, बाबा बहादुर सिंह, तेजिंदर सिंह इकोलाहा, कमलजीत सिंह बावा फैजगढ़, तलविंदर सिंह व मोहनपुर आदि उपस्थित थे।

यह भी पढ़ें-शहर जैसा ये गांव, लुधियाना के जनेतपुरा की सड़कों पर लगे 20 CCTV कैमरे और मिरर; स्मार्ट स्कूल में पढ़ते हैं बच्चे