जागरण संवाददाता, खन्ना : आरटीआइ एक्टिविस्ट रमनदीप ¨सह आहलूवालिया को विजिलेंस विभाग की टीम ने शनिवार शाम को खन्ना नगर कौंसिल के एक ठेकेदार से 50 हजार रुपये रिश्वत लेते हुए रंगे हाथ पकड़ा है। आहलूवालिया को विजिलेंस की टीम अपने साथ ले गई। टीम की अगुआई विजिलेंस मोहाली के इंस्पेक्टर सतवंत ¨सह सिद्धू कर रहे थे। उन्होंने आहलूवालिया के खिलाफ एफआइआर की पुष्टि की है। उन्होंने बताया कि ठेकेदार अंबिका पंडित ने विजिलेंस मोहाली से शिकायत की थी कि आहलूवालिया उन्हें परेशान कर रहे हैं और उनके द्वारा किए गए विकास के कामों के सैंपल भरवा कर विजिलेंस से शिकायत की धमकी दे रहे हैं। अंबिका ने बताया कि शुक्रवार को खन्ना नगर कौंसिल कार्यालय में भी आहलूवालिया ने उन्हें डराया। इसके बाद वे शुक्रवार को ही वे विजिलेंस के मोहाली दफ्तर पहुंच गए। शनिवार को विजिलेंस की टीम पहुंची और रंग लगे 50 हजार रुपये अंबिका को दिए। विजिलेंस का एक कर्मचारी अंबिका के साथ आहलूवालिया के करतार नगर स्थित घर गया। अंबिका ने 50 हजार रुपये आहलूवालिया को दिए और बाहर आ गए। इसके बाद विजीलेंस की टीम अंदर प्रवेश कर गई और आहलूवालिया को धर दबोचा। बताया जा रहा है कि टीम आहलूवालिया को अपने साथ मोहाली ले गई है। अंबिका ने बताया कि विजिलेंस ने आहलूवालिया के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!