जासं, खन्ना (लुधियाना)। कांग्रेस शासित खन्ना नगर कौंसिल के प्रधान कमलजीत सिंह लद्दड़ ने कौंसिल दफ्तर में सोमवार को उल्टा राष्ट्रीय ध्वज फहरा दिया। उस समय तो इसका पता नहीं चला, लेकिन जब फोटो इंटरनेट मीडिया पर वायरल हुई तो ये गलती पकड़ में आई। इसके बाद कौंसिल अधिकारियों ने इसमें सुधार करते हुए ध्वज को सीधा कर दिया। इस समारोह में प्रधान लद्दड़ के अलावा ईओ गुरपाल सिंह और शहर के पार्षद व अन्य कांग्रेस नेता मौजूद थे।

माली की गलती से हुआ : लद्दड़

खन्ना नगर कौंसिल प्रधान कमलजीत सिंह लद्दड़़ ने कहा कि झंडा बांधने की जिम्मेदारी रिटायर हो चुके माली सुंदर लाल की लगाई गई थी। उसने गलती कर दी और झंडा उल्टा बांध दिया। हालांकि पता चलते ही गलती सुधार ली गई।

यह भी पढ़ें - नगर कौंसिल मुल्लांपुर में फहरा दिया काले धब्बे वाला तिरंगा

संसू, मुल्लांपुर दाखा। स्वतंत्रता दिवस की 75वीं वर्षगांठ पर मुल्लांपुर दाखा नगर कौंसिल के दफ्तर में अजीबो-गरीब स्थिति बन गई। नगर कौंसिल अध्यक्ष तेलू राम बांसल ने ध्वजारोहण किया, लेकिन जब तिरंगे पर लोगों की नजर पड़ी तो उसमें एक तरफ तो अशोक चक्र बना था, पर दूसरी तरफ काले रंग का गोल निशान था।

हालांकि बाद में किरकिरी होने पर अधिकारियों ने तुरंत तिरंगा बदला और कौंसिल अध्यक्ष ने खुद इसके लिए माफी मांगते हुए कहा कि उन्हें नहीं पता कि ये शरारत किसने कर दी। इस मौके करनवीर सेखों, महिंद्रपाल सिंह लाली, जसविंदर सिंह हैप्पी, शकुंतला देवी, तरसेम कौर मान, रेखा रानी (सभी पार्षद), करनैल सिंह गिल, आशु बांसल और अनिल जैन आदि उपस्थित थे।

ईओ ने नहीं दिखाई गंभीरता

इस लापरवाही संबंधी जब नगर कौंसिल के कार्य साधक अफसर (ईओ) जगजीत ङ्क्षसह झज्ज से जानकारी लेनी चाही तो उन्होंने इसे ज्यादा गंभीरता से नहीं लिया। उन्होंने पल्ला झाड़ते हुए यह कह दिया कि आप तो केवल एक ही तरफ का काला धब्बा देख रहे हैैं, दूसरी तरफ तो अशोक चक्र है।

एसडीएम बोले, जांच करवाएंगे

एसडीएम (पश्चिम) कुलप्रीत सिंह को जब इस मामले का पता चला तो उन्होंने तुरंत तिरंगा बदलवाया। साथ ही उन्होंने कहा कि किस स्तर पर लापरवाही हुई है, इसकी जांच की जाएगी।

Edited By: Pankaj Dwivedi