जागरण संवाददाता, खन्ना : केंद्र की भाजपा सरकार द्वारा खन्ना के विकास के लिए लगातार भेजे जा रहे फंड्स का जमकर दुरुपयोग जारी है। एक तरफ अमरुत योजना के तहत मिले 124 करोड़ के फंड के दुरुपयोग का मुद्दा गर्म है, वहीं अब फोकल प्वाइंट के विकास के लिए आए 10 करोड़ के फंड की गड़बड़ी सामने आने लगी है। लोगों ने काफी मिन्नत के बाद विभाग से सीवरेज की पाइप तो डलवा ली, लेकिन विभाग ने पाइप लाइन को मेन कनेक्शन जोड़ा ही नहीं और उपर से सड़क बन गई। अब फोकल प्वाइंट के लोगों ने इस मामले की जानकारी भाजपा के प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य अनुज छाहड़िया को दी।

छाहड़िया ने बताया कि कारोबारियों की अपील पर केंद्र सरकार ने खन्ना के फोकल प्वाइंट के विकास के लिए 10 करोड़ की योजना दी थी। इससे फोकल प्वाइंट के अनुकूल करीबन एक फुट मोटी कंक्रीट की स्लैब वाली सड़क बन रही है। इस सड़क से पहले कुछ स्थानीय लोगों ने ठेकेदारों व विभाग से अपील कर करके सीवरेज से वंचित एरिया में सीवरेज पाइप डलवाई। लोगों को लगा कि पाइप डलने के बाद उसका काम पूरा हो चुका। इस दौरान उस इलाके में कंक्रीट की सड़क भी बन गयी। कुछ समय बाद जब लोगों ने सीवरेज पाइप लाइन बारे जानकारी प्राप्त की तो संबंधित विभाग के अधिकारी हरकत में आये। उन्होंने माना कि उनके अमले की गलती से कनेक्शन जोड़ना रह गया। विभाग द्वारा जल्द ही सड़क तोड़कर कनेक्शन जोड़ने बारे कहा गया, परन्तु सड़क बनाने वाले ठेकेदार ने अब सड़क तोड़ने देने से इंकार कर दिया। छाहड़िया ने कहा कि ऐसा करके सरकारी फंड की बर्बादी की गई है। इस मामले को वे केंद्र सरकार को भेजेंगे। उनके साथ एस सी मोर्चे के जिला प्रधान जसबीर सिंह, ट्रांसपोर्ट सेल के गुरदीप सिंह, जसवीर सिंह, धरमु आदि मौजूद रहे।

Edited By: Jagran