जागरण संवाददाता, खन्ना : एशिया की सबसे बड़ी अनाज मंडी खन्ना में गेहूं का सीजन पूरी तेजी पर है। आमद और खरीद में काफी चढ़ाव है, लेकिन लिफ्टिंग काफी धीमी है। हालात यह हो गए हैं कि खन्ना मंडी में खरीदे गए गेहूं की केवल 25 फीसद ही लिफ्टिंग हो पाई है। इसके चलते मंडी में जगह की किल्लत हो रही है। मंडी में नई आ रही फसल रखने को खाली स्थान नहीं बचा है।

मार्केट कमेटी से प्राप्त आंकड़ों के अनुसार खन्ना अनाज मंडी में सोमवार को गेहूं की 1,12,452 क्विंटल गेहूं की आमद हुई और 13,695 क्विटल गेहूं की लिफ्टिग हुई। इसी से अंदाजा लगाया जा सकता है कि आमद के मुकाबले लिफ्टिंग 10 फीसद के करीब ही है। इससे आढ़तियों और किसानों को परेशानी हो रही है।

मंडी में अबतक कुल 5,81,672 क्विटल गेहूं की आमद हुई है। इसमें से 1,43,112 क्विटल गेहूं की लिफ्टिग ही हुई है। यह कुल खरीद का 24.60 फीसद है। मंडी में इस वक्त 4,38,560 क्विटल गेहूं लिफ्टिंग के इंतजार में हैं। इस तरहा पौने नौ लाख के करीब बोरियां खन्ना मंडी में है। लिफ्टिंग में आ रही तेजी : पजनी

जिला खाद्य आपूर्ति अधिकारी (डीएफएसओ) मनीष पजनी ने कहा कि लिफ्टिंग में अब पहले से तेजी आ रही है। सोमवार देर शाम तक लिफ्टिग 30 फीसद के करीब पहुंच गई है। पहले यह 12 फीसद ही थी। इस तरह से जल्द ही मंडी में रखे गेहूं को उठा कर जगह खाली कर दी जाएगी। किसानों की पेमेंट भी लगातार उनके खाते में आ रही है।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप