जागरण संवाददाता, खन्ना : खन्ना के ललहेड़ी रोड के रुके हुए काम को लेकर शनिवार सुबह से धरने पर बैठे दुकानदारों और इलाका निवासियों का धरना शनिवार सारी रात और रविवार सारा दिन जारी रहा। हालांकि रविवार शाम को इंप्रूवमेंट ट्रस्ट के चेयरमैन गुरमिदर सिंह लाली के मंगलवार या बुधवार को काम शुरू होने के आश्वासन के बाद धरने से कुछ लोग उठ भी गए। लाली ने दावा किया कि अब केवल धरने पर राजनीतिक दलों के लोग रह गए हैं। लाली के साथ पार्षद सुनील कुमार नीटा और पार्षद अमरीश कालिया भी थे।

उधर, शिरोमणि अकाली दल वर्किंग कमेटी के सदस्य यादविदर सिंह यादू इलाका निवासियों और साथियों समेत शनिवार सारी रात धरना स्थल पर बैठे रहे। चाय से लेकर रोटी तक का इंतजाम वहीं पर किया गया। हालांकि शनिवार से धरनाकारियों ने लोगों के निकलने के लिए कुछ रास्ता जरूर छोड़ दिया। रविवार को ही कैबिनेट मंत्री गुरकीरत सिंह कोटली ने ठेकेदार अमनजोत सिंह से बैठक की। जल्द काम शुरू होने का आश्वासन मिलने के बाद ही लाली साथियों सहित धरने पर बैठे लोगों से मिलने पहुंचे। इस बीच अन्य दलों के नेताओं का भी आना जाना लगा रहा।

भाजपा और शिवसेना नेता भी पहुंचे

रविवार को भारतीय जनता पार्टी प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य अनुज छाहड़िया भी धरना स्थल पर पहुंचे। उन्होंने सरकार के खिलाफ आवाज बुलंद करने और अपने हक की लड़ाई लड़ने के लिए लोगों को बधाई दी। छाहड़िया ने कहा कि कांग्रेस ने केंद्र सरकार की अमरूत योजना को भी तहस-नहस कर दिया। इसकी जांच की मांग की गई है। इसके अलावा शिवसेना नेता अवतार मौर्या, महंत कश्मीर गिरी, राकेश शर्मा भी मौजूद धरना स्थल पर पहुंचे।

धरना खत्म हो चुका, सिर्फ राजनीति जारी : लाली

इंप्रूवमेंट ट्रस्ट के चेयरमैन गुरमिदर सिंह लाली ने कहा कि धरना खत्म हो चुका है। दुकानदार और इलाकानिवासी अपने घरों को चले गए हैं। अब केवल राजनीतिक लोग बैठे हैं और राजनीति जारी है। लाली के अनुसार लोगों को आश्वासन दिया गया है कि सोमवार से सड़क निर्माण सामग्री पहुंचनी शुरू हो जाएगी। मंगलवार या बुधवार को सड़क निर्माण शुरू हो जाएगा। लोग संतुष्ट हैं। अब इस मुद्दे पर राजनीति बंद होनी चाहिए।

काम शुरू होने तक जारी रहेगा धरना : यादू

अकाली नेता यादविदर सिंह यादू ने कहा कि सड़क निर्माण का काम शुरू होने तक धरना जारी रहेगा। सरकार के दबाव में कुछ लोग उठ गए होंगे। लेकिन दुकानदार और इलाकानिवासी अभी भी बड़ी संख्या में मौजूद है। उन्होंने आरोप लगाया कि कांग्रेस के इशारे पर धरनास्थल पर माहौल खराब करने की भी कोशिश की जा रही है। पुलिस का बर्ताव भी लोगों के साथ बहुत खराब है। इसका जवाब विधानसभा चुनाव में लोग देंगे।

Edited By: Jagran