संवाद सहयोगी, जगराओं : मंगलवार को नकाबपोश लुटेरों ने दिन-दिहाड़े प्राइवेट एजेंसी के एक कर्मचारी से 2.48 लाख रुपये लूट लिए। घटना की सूचना मिलने पर डीएसपी प्रभजोत कौर, थाना सिटी के प्रभारी और बस अड्डा पुलिस चौकी के प्रभारी हरमेश कुमार मौके पर पहुंचे। उन्होंने घटनास्थल पर जायजा लिया।

जानकारी के अनुसार सीएमएस कंपनी के कर्मचारी गुरविंदर सिंह निवासी गांव कमालपुरा ने पुलिस को बताया है कि वह बाइक पर बैग में पैसे लेकर आइडीबीआइ बैंक में जमा करवाने के लिए जा रहा था। जब वह करीब 1.30 बजे लाल पैलेस के पास मॉडल टाउन मोहल्ले मे पहुंचा तो पीछे से मोटरसाइकिल पर आ रहे नकाबपोश 3 युवकों ने उसे घेर लिया और पिस्तौल से गोली मारने की धमकी देकर उसका बैग छीन कर ले गए। बैग में सीएमएस कंटीन के 2.20 लाख रुपये और बिरला लाइट कंपनी के 28 हजार रुपये थे। डीएसपी ने कहा, फुटेज में नहीं दिख रही पिस्तौल

डीएसपी प्रभजोत कौर ने बताया कि पुलिस को एक सीसीटीवी फुटेज मिली है जिसमें बाइक सवार 3 लुटेरे नजर आ रहे है। हालांकि उन्होंने यह भी कहा कि फुटेज में लूट के लिए पिस्तौल का इस्तेमाल नहीं दिख रहा है। फिलहाल पुलिस ने फुटेज के आधार पर लुटेरों को पकड़ने का सुराग लगाने के लिए जुट गई है। चंडीगढ़ से शराब लाकर सस्ते में बेचने वाले 2 काबू

संवाद सहयोगी, समराला : समराला पुलिस ने बस स्टैड ललौडी कला के पास गश्त के दौरान एक कार में से 4 पेटी अवैध शराब बरामद कर एक्साइज एक्ट के तहत केस दर्ज किया है। पकडे़ गए व्यक्तियों की पहचान संदीप सिंह निवासी ललौड़ी कला और निर्मल सिंह निवासी ललौड़ी खुर्द के तौर पर हुई है। निर्मल सिंह का लड़का गगनदीप सिंह कार छोड़कर फरार हो गया। आरोपितों को पुलिस ने ज्यूडिशियल अदालत में पेश किया जहां अदालत ने दोनों को एक दिन के रिमाड पर भेज दिया है।

डीएसपी हरसिमरत सिंह ने बताया कि पुलिस चौकी बरधाला के इंचार्ज सुखविंदर सिंह द्वारा बस स्टैड ललौडी कला के पास नाकाबंदी करके चेकिंग की जा रही थी। शक के आधार पर एक कार को रोककर तलाशी ली जिसमें 4 पेटी अवैध शराब बरामद की। जांच अधिकारी ने बताया कि कार चालक गगनदीप सिंह पुलिस को चकमा देकर भागने में सफ ल हो गया। उसकी गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की जा रही है। पकड़ी गई शराब चंडीगढ़ में बिक्रीयोग्य है जो वह सस्ते दाम पर लाकर अपने इलाके में महगे दामों पर बेचते थे।

Posted By: Jagran