जासं, लुधियाना : महिलाओं को अपनी सेहत को लेकर हमेशा सजग रहना चाहिए। इसके लिए उन्हें अपने आहार को संतुलित रखना चाहिए ताकि उन्हें पर्याप्त मात्रा में विटामिन और कैल्सियम मिल सकें। इसके लिए महिलाओं को अनाज का सेवन करना चाहिए। साथ ही उन्हें सब्जिया और फल भी खूब खाना चाहिए। फलों में मौजूद फाइबर देता जरूरी पोषण देता है और इसलिए रोजाना फलों का सेवन बेहद जरूरी होता है। यह कहना रहा आयुर्वेदिक चिकित्सक डॉ. रविंदर कौर का। वह बुधवार को लक्ष्मी लेडिज क्लब की ओर से वूमेन डे को लेकर हेल्दी लाइफ स्टाइल व स्ट्रेस मैनेजमेंट पर आयोजित हेल्थ टॉक में जानकारी दे रही थी। डॉ. रविंदर ने कहा कि महिलाओं को सेहतमंद रहने के लिए हर रोज एक फल जरूर खाना चाहिए। फलों में विटामिन, कैल्शियम और फाइबर की पर्याप्त मात्रा मौजूद होती है। फल खाने से शरीर की रोग-प्रतिरोधक क्षमता मजबूत होती है। इसके अलावा डाइट में हरी और सीजनल सब्जियों को शामिल करना चाहिए। हरी सब्जियों में कैलोरी की मात्रा कम होती है और यह शरीर को पोटैशियम, विटामिन और फाइबर प्रदान करते हैं। हरी और पत्तेदार सब्जिया जैसे पालक, पत्तागोभी, तोरी, करेला आदि खाने से शरीर को भरपूर मात्रा में पोषण मिलता है। इस मौके पर उन्होंने आयुर्वेद चिकित्सा पर भी जानकारी दी। उन्होंने कहा कि आयुर्वेदिक चिकित्सा विधि सर्वागीण है। आयुर्वेदिक चिकित्सा के उपरान्त व्यक्ति की शारीरिक तथा मानसिक दोनों में सुधार होता है। आयुर्वेद सभी बीमारियों का इलाज भी करता है और कोई बीमारी फिर से न हो ये सिर्फ आयुर्वेद से ही संभव है। इसीलिए आयुर्वेद को जरूर अपनाना चाहिए।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!