लुधियाना [मुनीश शर्मा]। Ludhiana Garments Industry डिजिटल प्लेटफार्म देश की अर्थव्यवस्था में एक नई क्रांति के रुप में अग्रणी हो रहा है। कोविड के बाद कई अहम काम अब डिजिटल में तब्दील हो गए हैं, इसमें खरीददारी का कांसैप्ट भी डिजिटल की ओर से तेजी से बढ़ रहा है। ऐसे में पंजाब के गारमेंट्स उद्योग आनलाइन बिक्री की ओर तेजी से फोकस कर रही है। इससे डिजिटल प्लेटफॉर्म के लिए प्रोफेशनल की मांग बढ़ने के साथ साथ कम्पनियों को बेहतर डिस्प्ले कॉन्सेप्ट अपनाने पड़ रहे है। लुधियाना का गारमेंट्स उद्योग इस समय केवल दस से बीस प्रतिशत उत्पाद ही डिजिटल प्लेटफार्म से बिक्री कर रहा है। ऐसे में लुधियाना गारमेंट्स उद्योग में इसको लेकर खासी संभावनाएं तलाशी जा रही है और उद्योग डिजिटल बिक्री कांसेप्ट के लिए खुद को तैयार कर रहे हैं।

इसके लिए लुधियाना में डिजिटल के लिए फोटोग्राफी, प्रोडक्ट डिस्पले, सैंपलिंग, डिजाइनिंग, सोशल मीडिया एनालाइसिस्ट की मांग में खासा इजाफा हुआ है। इसके साथ ही डिजिटल की मांग को देखते हुए कंपनियों की ओर से ब्रांड क्रिएशन की जा रही है, जिससे ग्लोबल बाजार में पंजाब का गारमेंट्स उद्योग तेजी से ग्रोथ कर सकता है।

डयूक फैशन इंडिया लिमिटेड के सीएमडी कोमल कुमार जैन के मुताबिक समय में तेजी से बदलाव आ रहा है और कोविड काल के बाद से डिजिटल प्लेटफार्म पर एकदम से ग्रोथ देखने को मिली है। इसमें युवा वर्ग की शामुलियत तेजी से बढ़ी है और आनलाइन खरीददारी करने वालों में युवा सबसे अधिक है। ऐसे में कंपनी की ओर से डिजिटल प्लेटफार्म पर इस वर्ग पर खास ध्यान दिया जा रहा है और उनके च्वाइस को ध्यान में रखते हुए प्रोडक्ट डिस्पले किए जा रहे हैं।

कुद्दू निट प्रोसेस के डायरेक्टर वरूण मित्तल के मुताबिक डिजिटल के माध्यम से शापिंग को लेकर क्रेज तेज है। कंपनी की ओर से स्पोर्टस वियर प्रोडक्ट को आनलाइन में बेहतर रिस्पांस मिल रहा है। कंपनी आने वाले समय में इसमें विस्तार कर बेहतर ग्रोथ पर फोकस करेगी। निटवियर क्लब के प्रधान दर्शन डावर के मुताबिक अब छोटी कंपनियां भी तेजी से ब्रांड बनने की ओर अग्रसर है। इसमें आनलाइन सेल एक सबसे अच्छा प्लेटफार्म है। इससे कंपनियां सीधे ग्राहकों तक अपनी पहुंच बना रही है और मार्केट की डिमांड का आकलन कर प्रोडक्ट तैयार कर रही हैं।

Edited By: Vinay Kumar