लुधियाना, जेएनएन। तीन दिन के सामूहिक अवकाश पर गए नगर निगम कर्मचारी वीरवार को मेयर बलकार सिंह संधू के आश्वासन पर काम पर लौट आए। म्यूनिसिपल संघर्ष कमेटी पदाधिकारियों की मध्यस्थता के चलते सामूहिक अवकाश पर गए कर्मचारियों के साथ मेयर बलकार सिंह संधू, सीनियर डिप्टी मेयर शामसुंदर मल्होत्रा के साथ मीटिंग संभव हो पाई। कर्मचारियों ने बताया कि रिकवरी का दबाव है जिसके लिए सीनियर अधिकारियों का बर्ताव ठीक नहीं है। दिन भर लोगों से उलझने के बावजूद अधिकारियों की खरी-खोटी सुननी पड़ती है। इसके चलते कई कर्मचारियों को सेहत समस्याओं से भी जूझना पड़ रहा है। ऐसे में काम करना बेहद मुश्किल हो चुका है।

इस पर मेयर बलकार सिंह संधू ने आश्वासन दिया कि सीनियर अधिकारियों से इस संबंधी सुधार लाने के लिए कहा जाएगा, लेकिन रिकवरी के लिए किसी तरह का समझौता बर्दाश्त नहीं होगा। इस दौरान मौजूद सीनियर डिप्टी मेयर शाम सुंदर मल्होत्रा ने कर्मचारियों को काम पर लौट आने की अपील की जिसे कर्मचारियों ने स्वीकार लिया। संघर्ष कमेटी ने लंबित मांगों की सूची भी मेयर को सौंपी। इस दौरान संघर्ष कमेटी चेयरमैन अश्वनी सहोता, जनरल सेक्रेटरी हरपाल ङ्क्षसह व कार्यकारी अध्यक्ष सुनील शर्मा मौजूद रहे।

कर्मी बोले, मांगें पूरी न हुई तो छेडे़ंगे संघर्ष

पंजाब स्टेट मिनिस्टिरियल सर्विसेज यूनियन के बैनर तले सरकारी कर्मचारियों ने मिनी सचिवालय में प्रदर्शन किया। प्रदर्शनकारियों ने पंजाब सरकार को चेताया कि अगर जल्द ही मांगे न मानी गई तो संघर्ष तेज कर दिया जाएगा। वक्ताओं ने कहा कि चुनाव से पहले किए वादे सरकार ने पूरे नहीं किए। कैबिनेट की सब कमेटी द्वारा किए गए फैसलों को तुरंत लागू करने की मांग की। छठे पे कमिशन को तुरंत लागू करने की मांग करते हुए प्रदर्शनकारियों ने कहा कि नई पेंशन स्कीम की जगह पुरानी पेंशन स्कीम को लागू किया जाए। इस दौरान विजय कुमार, सुखविंदर सिंह, मोहिंदूर सिंह, प्रकाश सिंह, लखवीर सिंह, अश्विनि कुमार, गुरचरण सिंह दुग्गा, जसबीर सिंह, राजिंदर सिंह, इंद्रपाल सैनी, दिनेश कुमार, नीलम कुमारी, हरीश कुमार, गुरप्रीत सिंह व करनैल सिंह मौजूद रहे।

 

 

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें 

 

Posted By: Vikas Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!