आशा मेहता, लुधियाना

सेहत विभाग की जांच में जिले के 34 सरकारी स्कूलों के पानी के सैंपल फेल होने के मामले में शुक्रवार को डीईओ स्वर्णजीत कौर, डिप्टी डीईओ कुलदीप सिंह व निगम के एक्सईएन प्रमोद चंद मोहाली स्थित प्रोटेक्शन ऑफ चाइल्ड राइट्स कमीशन पंजाब के समक्ष पेश हुए। कमीशन चेयरमैन सुकेश कालिया ने सैंपल फेल होने के बारे में जवाब-तलब किया। कालिया ने कहा कि जब कमीशन की ओर से पिछले वर्ष ही विद्यार्थियों को हर हाल में स्वच्छ पेयजल उपलब्ध करवाने की हिदायतें जारी की गई थी तो इस साल पानी के सैंपल फिर से फेल क्यों आए? उन्होंने यह भी पूछा कि पिछले साल कमीशन की ओर से मॉनीटरिंग कमेटी बनाकर स्कूलों में सप्लाई हो रहे पानी की सैंपलिंग को लेकर मासिक मीटिंग करने के लिए कहा गया था, वह मीटिंगें क्यों नहीं हुई। बच्चों को दूषित पानी पिलाकर उनकी सेहत के साथ खिलवाड़ क्यों किया जा रहा है? जिस पर डीईओ के पास कोई उचित जवाब नहीं था। वह इतना ही कह पाई कि भविष्य में स्कूलों में पेयजल व्यवस्था को लेकर पूरी सतर्कता बरती जाएगी। साथ ही अगले सप्ताह जिला मॉनीटरिंग कमेटी की हिदायतों के अनुसार काम करने की रूपरेखा तैयार की जाएगी, जिन स्कूलों के सैंपल फेल हुए हैं उनके दोबारा से सैंपल जांच करवाकर रिपोर्ट भेजेंगे। अब लापरवाही मिली तो डीईओ जिम्मेदार

डीईओ का यह जवाब सुनकर चेयरमैन सुकेश कालिया ने मॉनीटरिंग कमेटी की मासिक मीटिंग करवाने की जिम्मेवारी डीईओ की फिक्स कर दी। साथ ही कहा कि हर माह अलग-अलग विभागों के साथ तालमेल करके मीटिंग बुलाने व विद्यार्थियों को साफ पानी उपलब्ध करवाने की जिम्मेवारी अब डीईओ की होगी। शिक्षा विभाग को यदि सेहत विभाग की सैंपलिंग के तरीकों को लेकर किसी तरह का संदेह है तो ज्वाइंट टीम बनाकर सैंपलिंग करवाई जाए। चेयरमैन सुकेश कालिया ने कहा कि यदि अब भी स्कूली बच्चों को स्वच्छ पेयजल उपलब्ध करवाने को लेकर कोई लापरवाही सामने आई तो उसकी जिम्मेवार डीईओ को माना जाएगा। 34 स्कूलों में पानी के सैंपल फेल होने का जागरण ने किया था खुलासा

गौर हो कि दैनिक जागरण ने एक जून के अंक में सेहत विभाग की जांच में जिले के 34 सरकारी स्कूलों के पानी के सैंपल फेल होने का खुलासा किया था, जिसके बाद प्रोटेक्शन ऑफ चाइल्ड राइट्स कमीशन पंजाब ने मामले का संज्ञान लेते हुए डीसी, डीईओ व पीडब्ल्यूडी डिपार्टमेंट से जवाब तलबी की थी। इसी के तहत शुक्रवार को डीईओ, डिप्टी डीईओ व एक्सईएन प्रोटेक्शन ऑफ चाइल्ड राइट्स कमीशन पंजाब के समक्ष पेश हुए।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!