राजन कैंथ, लुधियाना। नई दिल्ली के जहांगीरपुरी इलाके की रहने वाली तीक्षा सैनी 20 दिन पहले ही मेडिकल की इंटर्नशिप के लिए लुधियाना आई थी। कुछ समय पहले ही प्रभजोत के साथ फेसबुक पर उसकी दोस्ती हुई थी। प्रभजोत अपने दो दोस्तों के साथ रविवार को उससे मिलने लुधियाना आया था। हालांकि तीनों में से किसी ने भी अपने घर में किसी को नहीं बताया था कि वे लुधियाना जा रहे हैं। तीनों घूमने का बहाना बना कर घर से निकले थे। बताया जा रहा है कि तीक्षा प्रतापपुरा में कहीं इंटर्नशिप कर रही थी और वहीं के एक पीजी में रहती थी।

पुलिस को दिए बयान में राहुल ने बताया कि हादसे के समय पाहुल गाड़ी चला रहा था। वो उसके साथ वाली सीट पर था, जबकि पीछे की सीट पर प्रभजोत व तीक्षा बैठे हुए थे। हादसे के समय तीनों तीक्षा को छोडऩे के लिए प्रतापपुरा जा रहे थे। वहां से उन्होंने लाडोवाल बाइपास होते हुए वापस लौटना था। हादसे के समय कार की स्पीड करीब 80 थी। जैसे ही वे लोग पीएयू गेट नंबर आठ के सामने पहुंचे, पुल पार करके आ रही आई-20 कार बिना इंडिकेटर दिए मुड़ गई। हड़बड़ाहट में उनकी कार का संतुलन बिगड़ गया और दूसरी कार को हिट करते हुए उनकी कार सीधे नहर में जा गिरी। वह कार की खिड़की खोल कर कूद गया और नहर के किनारे गिरा। इसलिए तैर कर बाहर आ गया। देर रात राहुल के दो चाचा रघुनाथ एंक्लेव चौकी पहुंचे। दोनों गुरदासपुर में पुलिस मुलाजिम है। साल 2007 में राहुल के पिता का देहांत हो चुका है।

प्रभजोत का परिवार पहुंचा, तीक्षा परिवार दिल्ली से निकला

जेसीपी दीपक पारिक ने कहा कि मामले की गहराई से जांच की जा रही है। हादसे की हकीकत जानने के लिए पुलिस की टीमें सेफ सिटी प्रोजेक्ट के तहत लगाए गए कैमरों की फुटेज चेक कर रही है। मृतकों के स्वजनों को सूचना दे दी गई है। तीक्षा के स्वजन दिल्ली से निकल चुके हैं। प्रभजोत का परिवार पहुंच चुका है, जबकि पाहुल का परिवार भी पहुंचने ही वाला है। राहुल के बयान पर केस दर्ज किया जा रहा है।

पाहुलप्रीत के पिता हैं एएसआइ

गुरदासपुर के संत नगर निवासी पाहुलप्रीत सिंह के पिता बलजिंदर सिंह पुलिस में एएसआइ हैं। उन्होंने बताया कि सुबह 9:30 बजे पाहुल यह बोल कर घर से निकला था कि वो प्रभजोत के घर एक धार्मिक कार्यक्रम में जा रहा है। प्रभजोत कपूरथला के अमर नगर स्थित अपने ननिहाल में था। पाहुल और राहुल अपनी गाड़ी से कपूरथला पहुंचे। दोनों गाडिय़ां वहीं छोड़कर वे तीनों प्रभजोत की गाड़ी लेकर 11 बजे निकले। प्रभजोत के दादा जोगिंदर सिंह ने बताया कि प्रभजोत के पिता जतिंदर कौर और भाई गुरकीरतपाल सिंह इटली में रहते हैं। जल्दी ही प्रभजोत भी इटली जाने वाला था। पाहुलप्रीत आइलेंट्स कर रहा था और वो भी कनाडा जाने वाला था।

Edited By: Vikas_Kumar