जेएनएन, लुधियाना। मौसम विभाग ने अगले तीन दिनों में बारिश की चेतावनी जारी की है। इसके बाद प्रशासन के साथ-साथ सेहत विभाग भी अलर्ट हो गया है। सबसे ज्यादा खतरा सतलुज एरिया के साथ लगते इलाकों को है। इसलिए वहां पर अलर्ट कर दिया गया है। करीब 12 से अधिक इलाके हैं जहां पर यह अलर्ट किया गया है। यही नहीं जिला सिविल अस्पताल के डॉक्टरों को भी हिदायत दी गई है कि वह इमरजेंसी कॉल पर तुरंत जवाब दें।

सतलुज के आसपास के एरिया में एडिशनल सिविल सर्जन, एपिडिमोलॉजिस्ट समेत कई अधिकारियों की ओर से दौरा भी किया गया। सतलुज के पास के सभी सीएचसी और पीएचसी के स्टाफ की छुट्टियां तक रद कर दी गई हैं। दरिया में जलस्तर बढऩे के बाद से सिविल सर्जन की ओर से अधिकारियों और कर्मचारियों से बैठक की गई है। जिस तरह लगातार बारिश हो रही है, अनुमान के अनुसार सतलुज के किनारे बसे इलाकों में अधिक खतरा हो सकता है क्योंकि अगर भाखड़ा डैम में पानी ज्यादा होने पर छोड़ा जाता है तो वह सतलुज में ही आएगा जिससे बाढ़ जैसे हालात पैदा हो सकते हैं। इस कारण सिविल प्रशासन के साथ-साथ सेहत विभाग भी अलर्ट पर है।

यह तीन ब्लॉक बेहद नाजुक

सेहत विभाग की ओर से तीन ब्लॉक माछीवाड़ा, सिधवांबेट और कूमकलां को बेहद नाजुक स्थिति में आंका गया है। इन तीनों ब्लॉक के एसएमओ को विशेष तौर पर निर्देश दिए गए हैं कि कोई भी अधिकारी लंबी छुट्टी पर नहीं जाएगा। वहीं कर्मियों को इन अलर्ट के दिनों में छुïट्टी नहीं मिलेगी। इमरजेंसी छुट्टी जिला हेड क्वार्टर से अनुमति के बाद ही दी जाएगी। सेहत विभाग को आशंका है कि अगर ज्यादा बारिश होती है तो इस एरिया में पानी की मार पड़ेगी और इससे लोगों को काफी नुकसान होगा।

पानी से होने वाली बीमारियों सले बचाव के लिए निर्देश दिए

पिछले काफी समय से पड़ रही बारिश की वजह से जगह-जगह पानी भर रहा है। इससे लोगों को वाटर डिसीज बीमारियां हो सकती हैं। इसको लेकर सिविल सर्जन की ओर से मंगलवार को सीनियर अधिकारियों के साथ बात बैठक की गई। उनकी ओर से अधिकारियों को डेंगू, मलेरिया व अन्य बीमारियों संबंधी लोगों को अवगत करवाने व इसे बचाव व नियंत्रण संबंधी जानकारी देने के निर्देश दिए गए हैं।

हम अलर्ट पर, हर स्थिति से निपटने को तैयार : सिविल सर्जन

सिविल सर्जन राजेश बग्गा ने कहा कि हम किसी भी स्थिति से निपटने के लिए तैयार हैं। पूरे जिले में ही हेल्थ केंद्रों को अलर्ट कर दिया गया है। मगर सतलुज के कंडी एरिया में विशेष ध्यान दिया जा रहा है। अगर बाढ़ की स्थिति होती है तो इसके लिए रेपिड रिस्पांस टीम बनाई गई हैं जो तुरंत काम करेंगीं।

 

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: Sat Paul

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!