जेएनएन, समराला : सिविल अस्पताल में स्टाफ के लिए बन रहे क्वार्टरों की इमारत की नींव में हलकी व घटिया ईंटों का इस्तेमाल किया जा रहा है। यह आरोप लोक चेतना लहर पंजाब ने लगाया है। संगठन के नेताओं ने इसकी जांच की मांग की है।

स्वास्थ्य मंत्री, डीजीपी विजिलेंस पंजाब, डिप्टी कमिश्नर लुधियाना और अस्पताल के सीनियर मेडिकल अफसर को दिए गए मांग पत्रों का हवाला देते हुए संगठन के नेता जत्थेदार अमरजीत सिंह बालियों व संतोख सिंह नागरा ने कहा कि अस्पताल के स्टाफ के लिए बन रहे क्वार्टरों की नींव में ठेकेदार द्वारा घटिया किस्म की ईटें लगाने के लिए मंगवाई गई हैं। यह मामला उनके ध्यान में आया तो उन्होंने मौके पर जाकर अस्पताल की एसएमओ को दिखाया। साथ ही जांच के लिए उच्चाधिकारियों को पत्र लिखा।

इन नेताओं ने कहा कि अगर किसी इमारत की नींव ही कमजोर रखी जाएगी तो उसकी इमारत सुरक्षित कैसे रह सकती है। उन्होंने कहा कि ठेकेदार द्वारा ये ईटें गलती से आने का कहकर पल्ला छुड़वाया जा रहा है, लेकिन वह विभागीय जांच के बिना इन ईटों को यहां से उठाने नही देगें। नेताओं ने कहा कि इस घोटाले में सेहत विभाग के मुलाजिमों की भी मिलीभगत हो सकती है, क्योंकि ठेकेदार द्वारा जिस जगह निर्माण किया जा रहा है, वहां हर समय सेहत विभाग के मुलाजिमों का आना-जाना लगा रहता है। भट्ठा मालिक ने गलती से भेज दी ये ईटें: ठेकेदार

इस संबंध में ठेकेदार विक्की से बात की उन्होंने कहा कि भट्ठा मालिक ने गलती से घटिया ईटें भेज दी थीं। इनको उठवाकर नई ईटें मंगवाई जा रही हैं। अस्पताल की सीनियर मेडिकल अफसर डॉ. गीता का कहना है कि जब यह मामला उनके ध्यान में आया तो उनके द्वारा तुरंत काम रोककर इसकी सूचना उच्च अधिकारियों को भेज दी गई है। उन्होंने दावा किया कि इमारत में घटिया मटीरियल नहीं लगने दिया जाएगा।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!