जेएनएन, लुधियाना। जिले में कोविड-19 को लेकर अलग-अलग जगह पर बनाए गए आइसोलेशन सेंटर, कोविड केयर में वार्ड अटेंडेंट की पोस्ट लिए शुक्रवार को इंटरव्यू देने के लिए करीब 1300 उम्मीदवार पहुंच गए। भीड़ जब ज्यादा बढ़ी तो अफरा-तफरी मच गई। शारीरिक दूरी को भूलकर उम्मीदवार एक-दूसरे के साथ धक्का-मुक्की करने लगे। इस पर नौकरी के लिए पहुंचे उम्मीदवारों को पुलिस ने डंडे के जोर खदेड़ा।

सिविल सर्जन कार्यालय में रखे इंटरव्यू में वार्ड अटेंडेंट की पोस्ट के लिए शैक्षणिक योग्यता पंजाबी के साथ दसवीं रखी गई थी। मगर इस पोस्ट पर नौकरी के लिए दसवीं, बारहवीं के साथ-साथ ग्रेजुएट और पोस्ट ग्रेजुएट उम्मीदवार सुबह आठ बजे ही पहुंच गए। दोपहर साढ़े बारह बजे से दो बजे तक सिविल सर्जन कार्यालय में पांव रखने की जगह नहीं थी। इस दौरान अव्यवस्था भी सामने आई। यहां उम्मीदवारों के लिए न तो पानी की व्यवस्था थी और न ही बैठने की। ऐसे में जहां इंटरव्यू लेने वाले परेशान हो गए, वहीं घंटों धूप में खड़े रहने की वजह से इंटरव्यू देने आए उम्मीदवार भी बेचैन हो उठे।

उम्मीद नहीं थी इतने उम्मीदवार आएंगे: डॉ. बग्गा

सिविल सर्जन डॉ. राजेश बग्गा ने कहा कि यह इंटरव्यू जिले में बनाए गए कोविड केयर सेंटर को लेकर रखी गई थी। इंटरव्यू पिछले चार दिन से चल रही थी। शुक्रवार को वार्ड अटेंडेंट की 90 पोस्टों के लिए इंटरव्यू रखे थे। इसमें करीब 1267 उम्मीदवार आ गए। हमें उम्मीद नहीं थी कि कोरोना के बीच भी इतनी संख्या में उम्मीदवार इंटरव्यू के लिए आाएंगे।

यह  भी पढ़ें: सरकार के प्रयासों को हाई कोर्ट का झटका, 70 फीसद फीस वसूल सकेंगे स्कूल, एडमिशन फीस भी लेंगे

यह  भी पढ़ें: विदेश में फंसे भारतीयों की वापसी शुरू, अमृतसर में 211 व चंडीगढ़ एयरपोर्ट पर आए 100 यात्री

यह  भी पढ़ें: Weather Update: आज कई जगह छाए रहेंगे बादल, पर गर्मी से फिलहाल राहत मिलने वाली नहीं

यह भी पढ़ें: अवैध शराब मामले पर घिरी सरकार, खुफिया तंत्र फेल या नेताओं, प्रशासन पर माफिया भारी

Posted By: Kamlesh Bhatt

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!