लुधियाना, जेएनएन। लुधियाना में नशा तस्करी के मामले आए दिन सामने आ रहे है। इसी कड़ी में वीरवार को खन्ना पुलिस ने बड़ी कार्रवाई करते हुए स्विफ्ट कार सवार दो लोगों को चार किलो हेरोइन के साथ काबू किया है। दोनों आरोपित पंजाब के मोगा के रहने वाले है और पंजाब के विभिन्न इलाकों में हेरोइन की तस्करी करते थे। खन्ना के एसएसपी गुरशरणदीप सिंह ग्रेवाल ने वीरवार को प्रेस कांफ्रेंस में इसकी जानकारी दी।

एसएसपी ग्रेवाल ने बताया कि एसपी (डी) मनप्रीत सिंह, डीएसपी खन्ना राजन परमिंदर सिंह, सीआइए स्टाफ इंचार्ज विनोद कुमार की अगुआई में खन्ना पुलिस ने शहर की सीमा प्रीस्टाईन माल के सामने हाईवे पर नाकाबंदी की हुई थी। इस दौरान वाहनों की चेकिंग की जा रही थी। इस दौरान मंडी गोबिंदगढ़ साइड से आ रही एक स्विफ्ट कार नंबर पीबी29डब्ल्यू-4372 को रोका गया। कार चालक ने अपना नाम भूपिंदर सिंह निवासी सैदेशाह वाला, थाना फतेहगढ़ पंजतूर जिला मोगा बताया और उसके साथ बलविंदर सिंह निवासी नई कालोनी, धर्मकोट रोड, फतेहगढ़ पंजतूर, जिला मोगा बैठा था। डीएसपी राजन परमिंदर सिंह की अगुआई में कार की तलाशी लेने पर अगली सीटों के मध्य में एक पिट्ठू बैग को चेक किया तो उसमें चार किलो हेरोइन बरामद हुई। आरोपितों के खिलाफ एनडीपीएस एक्ट के तहत केस दर्ज किया गया है। उनसे आगे की पूछताछ की जा रही है।

दिल्ली से लाए थे हेरोईन की खेप

एसएसपी ने बताया कि शुरुआती पूछताछ में आरोपितों ने स्वीकार किया वे दिल्ली से हेरोइन की खेप लाए थे और इसे तरनतारन एरिया में सप्लाई करना था। पुलिस के अनुसार आरोपित कोरियर का काम करते थे और उन्हें सिर्फ हेरोइन को तरनतारन तक पहुंचाने के लिए ही एक लाख रुपये मिलने थे। लेकिन, खन्ना में प्रवेश करते ही वे पुलिस के हत्थे चढ़ गए। आगे आरोपितों से पूछताछ की जाएगी कि वे हेरोइन किसे देने के लिए जा रहे थे। आरोपितों के साथ इस नेटवर्क में शामिल अन्य लोगों की भी पहचान कर उन्हें काबू किया जाएगा। उस व्यक्ति की भी तलाश की जा रही है जो इनसे कोरियर का काम लेता था। एसएसपी के अनुसार मुख्य तस्कर तरनतारन का है।

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021