संस, जगराओं: पुलिस की वर्दी पहनकर खुद को पुलिस अफसर बताकर लूटपाट की घटनाओं को अंजाम देने वाले तीन लोगों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। थाना सदर के प्रभारी इंस्पेक्टर रमन कुमार ने बताया कि एसएसपी चरणजीत सिंह सोहल के निर्देश पर क्षेत्र में लूटपाट की घटनाओं पर अंकुश लगाने के लिए शुरू की गई विशेष मुहिम के दौरान हरविदर सिंह उर्फ कालू निवासी कोठे खंजूरां, हरदीप सिंह निवासी गांव नया डल्ला और चरण सिंह निवासी जैन मोहल्ला रायकोट को गिरफ्तार किया गया है।

पुलिस को सूचना मिली थी कि आरोपित पुलिस की वर्दी पहनकर खुद को पुलिस अफसर बताकर लूट की घटनाओं को अंजाम देते हैं। आरोपित चोरी के मोटरसाइकिल, मोबाइल और नकदी के साथ नजदीक रेलवे क्रासिग गगड़ा के पास हैं। इस पर पुलिस ने नाकाबंदी कर तीनों को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने उनके पास से 4 मोबाइल फोन, एक मोटरसाइकिल हीरो होंडा स्पलेंडर (इस पर जालंधर की कार का नंबर लगा हुआ था), एक एक्टिवा स्कूटी, तीन हजार रुपए नगदी, एक चांदी का ब्रेसलेट, घटना में उपयोग किए गए दो दात बरामद किए। पुलिस का फर्जी आइडी कार्ड मिला, एक पर पहले से पांच केस

थाना प्रभारी ने बताया कि आरोपित चरण सिंह के पास से पुलिस का फर्जी आइडेंटिटी कार्ड बरामद हुआ, जो खुद को पुलिस मुलाजिम बताकर घटना को अंजाम देता था। सख्ती से की पूछताछ में उन्होंने कबूल किया कि वह मुल्लांपुर दाखा, सिटी और सदर जगराओं के क्षेत्र में आने जाने वाले मजदूरों को लूटते थे। तीनों नशा करते हैं और इसी की पूर्ति के लिए वारदात को अंजाम देते थे। उन्होंने बताया कि गिरफ्तार हरविदर सिंह उर्फ कालू के खिलाफ पहले भी पांच मुकदमे दर्ज हैं। इनका पुलिस रिमांड हासिल करके और पूछताछ की जाएगी।

Edited By: Jagran