जागरण संवाददाता, लुधियाना : कोरोना के संकट के दौरान पहली कतार में रहकर संक्रमित मरीजों का इलाज करने वाले सेहत कर्मियों के सम्मान में सिविल अस्पताल में विशेष समारोह का आयोजन किया गया। यूनाइटिड प्रेस क्लब ने इंडो-तिब्बत बॉर्डर पुलिस के साथ मिलकर समारोह आयोजित किया, जिसमें सेहत विभाग के अधिकारी और कर्मचारी विशेष तौर पर शामिल हुए। इस दौरान आइटीबीपी ने बैंड पर मधुर धुनों को बजाकर सभी को मंत्रमुग्ध किया।

देशभक्ति व फिल्मी गीतों की धुनें बजाकर की हौसला अफजाई

इस दौरान आइटीबीपी ने बैंड पर देश भक्ति के गाने प्रस्तुत किए, जिसमें 'मेरे देश की धरती सोना उगले उगले हीरे मोती', 'संदेशे आते है'ं, 'ए मेरे वतन के लोगों', 'यह देश है वीर जवानों का' समेत कई गीत बजाकर उनकी हौसला अफजाई की। इसके बाद डॉक्टरों और नर्सिंग स्टाफ की मांग पर फिल्मी गीतों पर धुनें बजाईं।

इस दौरान सुदेश कुमार दराल सेनानी 26वीं वाहिनी ने कहा कि इस प्रदर्शन का मकसद कोरोना योद्धाओं का उत्साहवर्धन करना है। इस दौरान सिविल सर्जन डॉ राजेश बग्गा ने कहा कि प्रेस क्लब और आइटीबीपी ने यह बेहद सराहनीय कार्य किया है। इससे अभी भी कोरोना से जंग लड़ रहे डॉक्टरों में नई ऊर्जा पैदा हुई है। क्लब के अध्यक्ष अर्शदीप समर ने कहा कि क्लब पहले भी कोरोना के संकट के दौरान सेवाएं दे रहे अधिकारियों और कर्मचारियों का सम्मान करता रहा है। समारोह के दौरान संवेदना ट्रस्ट के मैनेजर और ड्राइवरों समेत सिविल अस्पताल के डॉक्टर, नर्सिंग स्टाफ, सफाई कर्मियों समेत अन्य स्टाफ के साथ अस्सी के करीब सेहत योद्धाओं को सम्मानित किया गया।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!