जागरण संवाददाता, लुधियाना। Rain in Punjab: पंजाब में इस बार सितंबर के तीसरे सप्ताह में भी मानसून पूरी तरह से सक्रिय है। पंजाब में हर तीसरे चौथे दिन बारिश हो रही है। खास बात यह है कि इस बार मानसून की बारिश की झड़ी लगी है। मौसम विज्ञानियों का कहना है कि करीब 11 साल बाद पंजाब में सितंबर में ऐसी बारिश हो रही है। ये बारिश फसलों के साथ-साथ भूजल स्तर के लिए फायदेमंद है। सूबे के कई जिलों में मंगलवार को तेज बारिश हुई। लुधियाना, जालंधर, अमृतसर में सुबह से लेकर दोपहर तक बारिश होती रही। बारिश वाले जिलों में अधिकतम तापमान भी सामान्य से तीन से पांच डिग्री सेल्सियस कम रिकार्ड किया गया।

अमृतसर में 41 मिलीमीटर बारिश रिकार्ड

मौसम विभाग चंडीगढ़ के अनुसार अमृतसर में 41 मिलीमीटर बारिश रिकार्ड की गई और अधिकतम तापमान 29.5 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया। दूसरी तरफ लुधियाना में 16.4 मिलीमीटर बारिश और अधिकतम तापमान 27.4 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया। चंडीगढ़ में 1.8 मिलीमीटर बारिश हुई। पीएयू के मौसम विभाग के अनुसार 24 सितंबर तक मानसून पूरी तरह से सक्रिय रहेगा। इस दौरान कई जिलों में हल्की बारिश होगी। मौसम विभाग का कहना है कि रुक-रुक हो रही बारिश भूजल स्तर के लिए फायदेमंद है।

 

यह भी पढ़ें-Weather Forecast Ludhiana: लुधियाना में दूसरे दिन भी बादलों ने डाला डेरा, दिन में बारिश के आसार

लुधियाना के श्रद्धालुओं की कार पर गिरा पेड़, बाल-बाल बचे

उधर, रूपनगर के आनंदपुर साहिब क्षेत्र में सोमवार रात बारिश के दौरान गुरुद्वारा फतेहगढ़ साहिब लुधियाना से माता श्री नयना देवी मंदिर में माथा टेकने आए श्रद्धालुओं की कार पर पेड़ गिर गया। कार में सवार उनके परिवार के लोगों को सुरक्षित बाहर निकाल लिया गया। कार रवि कुमार, चंद्रपाल वासी नानक नगर लुधियाना, स¨तदर पाल सिंह, उनकी पत्नी और दो बेटियां व पुत्र भी सवार थे, जोकि बाल बाल बच गए।

यह भी पढ़ें-कैप्‍टन अमरिंदर सिंह का 'किला' बचाने को अंतिम क्षणों में बिट्टू ने भी लगाया था जोर, सुलह की कोशिश हुई नाकाम

 

 

Edited By: Vipin Kumar