जागरण संवाददाता, लुधियाना : ग्रेटर लुधियाना एरिया डेवलपमेंट अथॉरिटी (ग्लाडा) ने होटल कीज के पीछे एक नई कॉलोनी काटी है। इसमें आम लोगों के साथ-साथ आर्थिक तौर पर कमजोर लोगों के लिए भी प्लाट रिजर्व रखे गए हैं। गरीबों के लिए जो प्लाट की कीमत रखी है वह उनकी पहुंच से बहुत दूर है। ग्लाडा ने गरीबों के लिए आरक्षित प्लाटों की कीमत 26,100 रुपये प्रति गज रखी है और इन प्लाटों की माप 100 गज है। इस तरह 100 गज के प्लाट की कीमत 26 लाख रुपये से ज्यादा है। ऐसे में गरीबों के लिए यहां प्लाट खरीदना आसान नहीं होगा। ग्लाडा की इस स्कीम के कारण कई तरह के सवाल भी खड़े हो रहे हैं। अब उनके अनुसार गरीब के पास लाखों रुपये कहां से आएंगे। वह तो रोजी-रोटी के लिए ही दो वक्त की रोटी ही बमुश्किल कमाता है।

ग्लाडा ने नई कॉलोनी में प्लाट बेचने के लिए ऑनलाइन बोली शुरू कर दी है। यहां गरीबों को 11 और आम लोगों को 82 प्लाट बेचे जाएंगे। इसके अलावा नौ एससीओ भी ऑनलाइन बोली के जरिए बेचे जाने हैं। ग्लाडा की वेबसाइट पर खरीदार पांच अगस्त तक ऑनलाइन बोली दे सकेंगे। ग्लाडा अधिकारियों के मुताबिक गरीब लोगों के लिए रिजर्व प्राइस 26,100 रुपये प्रति गज रखा गया है, जबकि आम लोगों के लिए रिजर्व प्राइस 29 हजार रुपये प्रति गज है। एससीओ का रिजर्व प्राइस 87 हजार रुपये प्रति गज रखा गया है।

ग्लाडा के एसीए भूपिदर सिंह ने बताया कि तय समय के भीतर ऑनलाइन बोली होगी। इसके बाद प्लाट अलॉट कर दिए जाएंगे।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!