लुधियाना, जेएनएन। एटीएम से पैसे निकलवाने आए लोगों के कार्ड बदल कर पैसे निकलवाने वाले नौसरबाज गिरोह के पांच सदस्यों को सीआइए-2 ने गिरफ्तार किया है। पुलिस ने आरोपितों के पास से 56 एटीएम, तीन बाइक, दो दात और तीन रॉड बरामद की है। पकड़े गए आरोपितों की पहचान डाबा रोड निवासी रोहित शामा उर्फ अंमती, ग्यासपुरा निवासी राजेश कुमार उर्फ चन्नू, डेहलों निवासी विसाखा सिंह उर्फ लक्की, ग्यासपुरा निवासी शंकर कुमार और शुभम रंधावा के रूप में हुई है। सीआइए-2 पुलिस ने आरोपितों के खिलाफ थाना मोती नगर में केस दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी है। बताया जा रहा है कि सभी आरोपित एक दूसरे के सम्पर्क में रहते थे और पैसे निकलवाने के बाद फरार हो जाते थे। पुलिस कमिश्नर राकेश अग्रवाल ने बताया कि सभी आरोपित पिछले काफी समय से एटीएम रूम में घुस कर लोगों को गुमराह कर उनका एटीएम कार्ड बदल देते औऱ एटीएम से पैसे निकलवा फरार हो जाते थे। सभी आरोपितों ने 12वीं कक्षा या उससे नीचे तक की पढ़ाई की है। आरोपितों के पास से कुछ हथियार भी बरामद हुए हैं।

महिलाओं और बुजुर्गो व प्रवासियों को बनाते थे निशाना

सीपी ने बताया कि आरोपित सुनसान जगहों पर बने एटीएम के बाहर जाकर खड़े हो जाते थे और जब भी कोई बुजुर्ग, महिला या दूसरे राज्यों का व्यक्ति एटीएम रूम में जाता था तो वह भी उसी समय एटीएम के अंदर चले जाते थे। उसके बाद एटीएम से पैसे निकलवाने में मदद करने के बहाने उनका एटीएम कार्ड बदल देते थे और पैसे निकलवा मौके से फरार हो जाते थे। इनमें से कुछ आरोपित नशे के भी आदी हैं।

इन जगहों पर लगे एटीएम को बनाते थे टारगेट

सीपी राकेश अग्रवाल ने बताया कि पकड़े गए आरोपित ज्यादातर ग्यासपुरा, ढंढारी, शेरपुर, चंडीगढ़ रोड, पिपल चौक व इसके आसपास के इलाकों में लगे एटीएम को ही टारगेट बनाते थे। उन्होंने बताया कि इन सभी आरोपितों के खिलाफ पुलिस ने केस दर्ज पूछताछ शुरू कर दी है। 

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

 

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!