जेएनएन, लुधियाना। ग्यासपुरा स्थित अंबेडकर नगर इलाके में एक कलयुगी पिता लॉकडाउन के दौरान अपनी नाबालिगा बेटी के साथ दुष्कर्म करता रहा। आरोपित पिता दुष्कर्म के बाद बेटी को धमकी देता था कि अगर उसने किसी को इस बारे में बताया तो अच्छा नहीं होगा। बेेेेटी शर्म व डर के कारण चुपचाप रही और पिता ज्यादती सहती रही। मामला तब खुला जब बेटी के पेट मेें तेज दर्द हुआ। उसनेे दर्द होने पर मांं को सारी बात बता दी। मामला तब जाकर पुलिस के पास पहुंचा। थाना साहनेवाल पुलिस ने पीड़िता की मां की शिकायत पर आरोपित पिता के खिलाफ दुष्कर्म का मामला दर्ज कर गिरफ्तार कर लिया है।

शिकायतकर्ता के मुताबिक उसकी पांच बेटियां हैं। लॉकडाउन के दौरान सभी बेटियां और उसका पति घर में ही रहते थे। इसी दौरान आरोपित अपनी 14 वर्षिय एक बेटी के साथ दुष्कर्म करता रहा। इस बारे मेें परिवार के किसी सदस्य को भनक नहीं लगी।

बाप अपनी बेटी से दुष्कर्म करता रहा और उसे धमकियां देता रहा। कहा अगर उसने किसी को कुछ बताया तो बहुत बुरा होगा। डर के कारण वह चुपचाप पिता की ज्यादती को सहती रही। कई बार उसने मां को सच्चाई बताने की ठानी, लेकिन फिर लोकलाज व पिता के डर के कारण वह चुप रही। उसने किसी को भी दुष्कर्म की जानकारी नहीं दी। 

इसी दौरान लड़की के पेट में तेज दर्द हुआ। मां ने जब बेटी से दर्द के बारे में पूछा तो वह फफक फफक कर रो पड़ी। उसके बाद जो बेटी ने जो बात बताई उससे मां के पैरों तले जमीन खिसक गई। बेटी ने कहा कि पिता उससे रोज दुष्कर्म करता है। यह सिलसिला लॉकडाउन के दौरान शुरू हुआ था। 

लॉकडाउन के कारण पिता घर से बाहर नहीं जाता था। इस दौरान वह अक्सर उसे हवस का शिकार बनाता रहा। मां ने मामले की शिकायत पुलिस में दे दी है। पीड़िता की मेडिकल जांच करवाई गई है। थाना साहनेवाल पुलिस ने आरोपित के खिलाफ मामला दर्ज कर गिरफ्तार कर लिया। पुलिस आरोपित से पूछताछ करने में जुटी हुई है।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!